प्रखर सामाजिक कार्यकर्ता थे विश्वनाथ बाबू!

0

मोकामा (एसएनबी)। स्वतन्त्रता सेनानी और सामाजिक कार्यकर्ता विश्वनाथ शर्मा का मंगलवार को निधन हो गया। विश्वनाथ शर्मा स्वतन्त्रता सेनानी भी थे और आजादी के बाद शिक्षक के तौर पर कार्यरत थे। नब्बे साल से अधिक उम्र होने पर भी विश्वनाथ शर्मा सामाजिक सांस्कृतिक गतिविधियों में सक्रिय रहते थे। विधान पार्षद नीरज कुमार ने सेवानिवृत शिक्षक विश्वनाथ शर्मा के निधन पर गहरा शोक जताया है। विधान पार्षद नीरज कुमार ने जारी शोक संदेश में कहा कि विश्वनाथ बाबू स्वतन्त्रता सेनानी और शिक्षक होने के साथ साथ प्रखर सामाजिक कार्यकर्ता थे। नीरज कुमार ने कहा कि वे उनके शिक्षक भी थे। भाजपा नगर अध्यक्ष नीलेश कुमार माघो ने उनके निधन पर शोक जताया और कहा कि उनके निधन से समाज को गहरा नुकसान हुआ है। नगर परिषद उपाध्यक्ष ललिता देवी, प्रदेश युवा जद यू महासचिव रीतेश कुमार कन्हैया, मुकाम सिविल फाउंडेशन के डॉ संजीव कुमार, रेड क्रॉस सचिव डॉ रंजीत, हरे.ष्ण, हरिशंकर सिंह पांडव, चाकी स्मृति फाउंडेशन के सचिव उदय प्रकाश, जदयू नेता पवन कुमार, जिला बीस सूत्री सदस्य महेश शर्मा, गोरख सिंह,बबन सिंह, रौशन भारद्वाज, अशोक नारायन सिंह सहित अन्य ने उनके निधन पर गहरी संवेदना जताई है।

उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा।