लोजपा नेता कन्हैया सिंह की दो टूक, 2 अक्टूबर तक चालू हो ट्रामा सेंटर मोकामा अन्यथा…

मोकामा। बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था से जूझते मोकामा में उपचार की विकट समस्या से कौन नहीं परेशान है। राजा-रंक, अमीर-गरीब, शासक-सेवक आप किसी का नाम ले लें, कोई किसी दल या व्यक्ति का समर्थक हो जब वे या उनके परिजन बीमार पड़ते हैं तब सबको मोकामा की बदहाल चिकित्सा व्यवस्था का दंश झेलना पड़ता है।

-विज्ञापन-

Mokama ,मोकामा

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 79821 24182

मोकामा के लोगों के अनुरोध पर फरवरी 2019 में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मोकामा में ट्रामा सेंटर खोलने की घोषणा की थी। और यह जमीनी हकीकत भी बन चुका है लेकिन सिर्फ भवन निर्माण होना ट्रामा सेंटर बनना नहीं होता। मोकामा के ट्रामा सेंटर की यही स्थिति है। यहां भवन तो बन गया है लेकिन अब तक चिकित्सा व्यवस्था शुरू नहीं हो पाया।

-विज्ञापन-

Mokama ,मोकामा

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 79821 24182

मोकामा के लोगों की इस समस्या को देखते हुए अब लोजपा नेता कन्हैया कुमार सिंह ने ट्रामा सेंटर खुलवाने के लिए एक जनअपील की है। उन्होंने फेसबुक और व्हाट्सएप के माध्यम से अपनी रणनीति साफ कर दी है। एक संदेश में कन्हैया सिंह ने लिखा है … ‘दो शब्दों में 2 अक्टूबर के पहले अगर ट्रामा सेंटर नहीं चालू किया गया तो मोकामा के युवा इतिहास रचने के लिए तैयार हैं। भीख नहीं चाहिए मेरा अधिकार है 2 अक्टूबर ऐतिहासिक होगा।- कन्हैया सिंह।

कन्हैया ने साफ कहा है कि 2 अक्टूबर तक अगर ट्रामा सेंटर नहीं खुला तो मोकामा के युवाओं को साथ लेकर वे इसे खुलवाने के लिए एक बड़ी पहल करेंगे। कन्हैया की फेसबुक पोस्ट पर बड़ी संख्या में लोगों ने उनकी इस पहल की सराहना की है। यूजर्स ने उन्हें इस पुनीत कार्य में पूर्ण सहयोग देने का वादा किया है।

तो कन्हैया की इस अपील से क्या बिहार के स्वास्थ्य महकमे की नींद खुलेगी? क्या मोकामा के जनप्रतिनिधियों और नेताओं को ट्रामा सेंटर की सुध लेने की फुर्सत मिलेगी? क्या मोकामा के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ मिलेगा?

आपको बता दें कि 2 करोड़ रुपए की ज्यादा रकम से ट्रामा सेंटर का मोकामा रेफरल अस्पताल परिसर में निर्माण हुआ है। लेकिन यहां न तो उपकरण आए हैं और ना ही किसी डॉक्टर या पैरा मेडिकल स्टाफ की नियुक्ति हुई है। कोई भी जनप्रतिनिधि इसके खुलने की तारीख बताने को तैयार नहीं हैं।

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।

error: Content is protected !!