मोकामा के बेटे द्वारा स्थापित स्कूल में पढ़े हैं यूपीएससी 2020 टॉपर शुभम

मोकामा के बेटे द्वारा स्थापित स्कूल में पढ़े हैं यूपीएससी 2020 टॉपर शुभम।

पटना/मोकामा।(Shubham Kumar UPSC 2020) यूपीएससी 2020 टॉपर शुभम की सफलता से बिहार का गौरव बढ़ा है। उनकी उत्कृष्ट उपलब्धि पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बधाई एवं शुभकामनाएं दीं हैं। नीतीश कुमार ने ट्विटर पर शुभम के लिए शुभकामना संदेश लिखा है। उन्होंने लिखा, UPSC सिविल सेवा परीक्षा में प्रथम स्थान हासिल करने पर बिहार के श्री शुभम कुमार को बधाई एवं शुभकामनाएं। उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना है। मुख्यमंत्री ने यह भी लिखा है कि बिहार के विकास आयुक्त, आमिर सुबहानी ने भी पूर्व में प्रथम स्थान प्राप्त किया था।

मोकामा ऑनलाइन की वाटस ऐप ग्रुप से जुड़िये और खबरें सीधे अपने मोबाइल फ़ोन में पढ़िए ।

यू.पी.एस.सी-2020 (सिविल सर्विसेज) की परीक्षा में(A.I.R) प्रथम स्थान प्राप्त करने के साथ शुभम ने बिहार का नाम रौशन किया है।

बिहार के कटिहार जिला के कदवा प्रखंड के कुम्हरी ग्राम निवासी देवानंद सिंह बैंककर्मी हैं। उनके सुपुत्र शुभम कुमार IAS टॉपर बने हैं। यू.पी.एस.सी-2020 (सिविल सर्विसेज) की परीक्षा में(A.I.R) प्रथम स्थान प्राप्त करने के साथ शुभम ने बिहार का नाम रौशन किया है। इसके पूर्व शुभम आइआइटी में भी सफल रहे, अब वे यूपीएससी में सफलता का परचम लहरा कर अपनी मेधा का लोहा मनवाए हैं।

मोकामा ऑनलाइन के इन्स्टाग्राम पर हमसे जुड़िये ।

Shubham Kumar UPSC 2020

शुभम की पढ़ाई पूर्णिया स्थित विद्या विहार रेजिडेंट्सियल स्कूल से हुई। ।

(Shubham Kumar UPSC 2020)शुभम की पढ़ाई पूर्णिया स्थित विद्या विहार रेजिडेंट्सियल स्कूल से हुई। उन्होंने इस विद्यालय से वर्ष 2012 में दसवीं पास किया था। विद्या विहार रेजिडेंट्सियल स्कूल के संस्थापक एवं संचालक रमेश चंद्र मिश्रा हैं। रमेश चंद्र मिश्रा मूल रूप से बिहार के पटना जिले के मोकामा निवासी रहे हैं। उनका परिवार मोकामा के सकरवार टोला का रहने वाला है। करीब दो दशक पहले उनके परिवार ने पूर्णिया में विद्या विहार रेजिडेंट्सियल स्कूल की स्थापना की। मौजूदा दौर में यह विद्यालय बिहार का सबसे बेहतरीन आवासीय विद्यालय में गिना जाता है। मोकामा के बेटे द्वारा स्थापित स्कूल में पढ़ाई करने वाले शुभम की उपलब्धि पर इस नाते मोकामा भी गौरवांवित हुआ है।(Shubham Kumar UPSC 2020)

सात साथियों के शहादत के बाद भी रामकृष्ण सिंह ने सचिवालय पर झंडा फहराया था।

स्व.पं. साधू शरण शर्मा ,खूब लड़े अंग्रेजो से।

याद किये गये चाकी।

-विज्ञापन-

Mokama ,मोकामा

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 79821 24182

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।