नहीं रहे श्री श्री 108 बिंदु दास जी महराज मोकामा में शोक की लहर।

नहीं रहे श्री श्री 108 बिंदु दास जी महराज मोकामा में शोक की लहर।(Shri Shri 108 Bindu Das Ji Maharaj is no more)

बिहार।पटना।मोकामा। मोकामा चिंतामणि चक बड़ी ठाकुरबाड़ी के महंत पूजनीय श्री श्री 108 बिंदु दास जी महाराज का कल दोपहर 3 बजे स्वर्गवास हो गया।मोकामा में धर्म की ध्वजा उठाये 95 वर्षीय बिंदु दास स्वामी जी पिछले कुछ दिनों से बीमार थे।अपने दिव्यता एवं विद्वता के बल पर उन्होंने स्थानीय लोगों के बीच अमिट छाप छोड़ी।(Shri Shri 108 Bindu Das Ji Maharaj is no more)

मोकामा ऑनलाइन की वाटस ऐप ग्रुप से जुड़िये और खबरें सीधे अपने मोबाइल फ़ोन में पढ़िए ।

Shri Shri 108 Bindu Das Ji Maharaj is no more
विज्ञापन

श्री श्री 108 बिंदु दास जी महाराज के निधन की खबर के बाद साधु संतों और अनुयायियों में शोक की लहर दौड़ गयी।(Mokama Online)

श्री श्री 108 बिंदु दास जी महाराज के निधन की खबर के बाद साधु संतों और अनुयायियों में शोक की लहर दौड़ गयी। ठाकुरबाड़ी के पास ही बड़ी संख्या में अनुनायी एकत्र हो गए। उनके निधन से ना केवल अनुयायियों में बल्कि पूरे मोकामा में मातम छा गया।(Shri Shri 108 Bindu Das Ji Maharaj is no more)

Shri Shri 108 Bindu Das Ji Maharaj is no more
विज्ञापन

मोकामा ऑनलाइन के इन्स्टाग्राम पर हमसे जुड़िये ।

चिंतामणि चक बड़ी ठाकुरबाड़ी के महंत बिंदु दास जी महाराज की ख्‍याति दूर-दूर तक फैली है।(Mokama Online)

श्री श्री 108 बिंदु दास जी महाराज ने अपने जीवन के 70 वर्ष धर्म आध्यात्म समाज एवं संस्कृति में सुधार के क्षेत्र में जो काम किया है वह अनुकरणीय है।ज्ञात हो कि बिंदु दास जी महाराज एक बड़े संत थे। चिंतामणि चक बड़ी ठाकुरबाड़ी के महंत बिंदु दास जी महाराज की ख्‍याति दूर-दूर तक फैली है।(Shri Shri 108 Bindu Das Ji Maharaj is no more)

Shri Shri 108 Bindu Das Ji Maharaj is no more
विज्ञापन

मोकामा और आस पास के इस तरह के अन्य खबरों को जानने के लिए मोकामा ऑनलाइन डॉट कॉम के अतिरिक्त हमारे सोशल मीडिया प्लेटफार्म फेसबुक ,ट्विटर ,इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर हमे फॉलो करें।

ये भी पढ़ें:-नए थानाध्यक्ष को दिया 50 रुपये घूस कहा हम तो 50 रुपये ही देते हैं साहब।

ये भी पढ़ें:-मोकामा में पदस्थापित क्लर्क को DM ने दी जबरिया रिटायरमेंट की सजा

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।

error: Content is protected !!