रामनवमी पर उमड़ा श्रद्धा का सैलाब, चढ़ाया गया सवा मन का लड्डू का प्रसाद ।

रामनवमी पर उमड़ा श्रद्धा का सैलाब, चढ़ाया गया सवा मन का लड्डू का प्रसाद।(Ramnavmi Celebrated with Sava Man Laddu)

बिहार।पटना।मोकामा।आज रामनवमी के अवसर पर मोकामा के फिजाओं में रामभक्ति की गूंज सुनाई देती रही।मोकामा बाजार में अवस्तिथ संकटमोचन मन्दिर में दिन भर श्रद्धालुओं का आना जाना लगा रहा।संकटमोचन मन्दिर में लोगों की बड़ी आस्था है।लोगों की मान्यता है कि जो भी सच्चे मन से कुछ मांगता है बजरंगबली उसे जरूर पूरा करते हैं।(Ramnavmi Celebrated with Sava Man Laddu)

मोकामा ऑनलाइन की वाटस ऐप ग्रुप से जुड़िये और खबरें सीधे अपने मोबाइल फ़ोन में पढ़िए ।

Ramnavmi Celebrated with Sava Man Laddu
विज्ञापन

रामनवमी के दिन संकटमोचन मन्दिर में सबसे ज्यादा भीड़ होती है।(Mokama Online)

रामनवमी के दिन संकटमोचन मन्दिर में सबसे ज्यादा भीड़ होती है।इस मंदिर के गर्भगृह में हनुमान जी विराजते हैं।इस मन्दिर में राम परिवार की भी पूजा होती है।मैन रोड पर होने की वजह से दूर दूर से श्रद्धालु दर्शन करने आते हैं।(Ramnavmi Celebrated with Sava Man Laddu)

Ramnavmi Celebrated with Sava Man Laddu
विज्ञापन

मोकामा ऑनलाइन के इन्स्टाग्राम पर हमसे जुड़िये ।

मोकामाघाट के ईश्वर टोला के हनुमान मंदिर में सवा मन का लड्डू चढ़ाया गया।(Mokama Online)

मोकामाघाट के ईश्वर टोला के हनुमान मंदिर में सवा मन का लड्डू चढ़ाया गया।लोगों की बड़ी आस्था है बजरंगबली में। रामनवमी के अवसर पर दिन भर भक्त हुजूम लगा रहा ।भक्तों के बीच भजन का भी आयोजन किया गया था।भक्ति और भजन के बीच भगवान को सवा मन का लड्डू चढ़ाया गया।(Ramnavmi Celebrated with Sava Man Laddu)

ईश्वर टोला मोड़ वाहन दुर्घटना का “हॉट स्पॉट” हुआ करता था जिसमें अनगिनत लोगों को जान से हाथ धोना पड़ता था ।(Mokama Online)

श्री राम के अनन्य भक्त पिंटू कुमार बताते हैं कि आज से कुछ दशक पहले तक मोकामाघाट के मोड़ पर अक्सर सड़क दुर्घटना होते रहती थी। यँहा दुर्घटना में जान गवाने वालों की लंबी लिस्ट है।(Ramnavmi Celebrated with Sava Man Laddu)

संकट मोचन के शक्ति का प्रभाव जब से मूर्ति स्थापना हुई उसके बाद से आज तक दुर्घटना तो हुई परंतु “जान” किसी कि नहीं गई ।(Mokama Online)

“सवा मन” का लड्डू का भोग लगाने के पीछे एक रहस्य और भी है जो बड़े बुजुर्गो के बीच चर्चित है कि कैसे मंदिर निर्माण से पूर्व ईश्वर टोला मोड़ वाहन दुर्घटना का “हॉट स्पॉट” हुआ करता था जिसमें अनगिनत लोगों को जान से हाथ धोना पड़ता था । अब इसे संयोग कहे या संकट मोचन के शक्ति का प्रभाव जब से मूर्ति स्थापना हुई उसके बाद से आज तक दुर्घटना तो हुई परंतु “जान” किसी कि नहीं गई ।(Ramnavmi Celebrated with Sava Man Laddu)

मूर्ति स्थापना सह मंदिर निर्माण काल के प्रारम्भ से ही “सवा मन” का लड्डू भोग लगाने का परंपरा अनवरत चलता आ रहा है ।(Mokama Online)

मूर्ति स्थापना सह मंदिर निर्माण काल के प्रारम्भ से ही “सवा मन” का लड्डू भोग लगाने का परंपरा अनवरत चलता आ रहा है । सरकारी लड्डू मंदिर प्रबंधन कमिटी कि ओर से हर साल चढ़ाने कि परम्परा रही है ।हर साल दर्जनों लड्डू का भोग आस्-पास् के ग्रामीणों द्वारा लगाया जाता है ।सच्ची अंतर्मन से श्रद्धा और विश्वास के साथ मन्नत मांगने वाले श्रद्धालु का मनोकामना पूर्ण होने पर भोग के रूप में “सवा मन” का लड्डू मंदिर प्रांगण मे ही बना कर भोग लगाया जाता है ।

उमरूब डेंटल क्लिनिक
विज्ञापन
माही क्लिनिक
विज्ञापन

मोकामा और आस पास के इस तरह के अन्य खबरों को जानने के लिए मोकामा ऑनलाइन डॉट कॉम के अतिरिक्त हमारे सोशल मीडिया प्लेटफार्म फेसबुक ,ट्विटर ,इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर हमे फॉलो करें।

ये भी पढ़ें:-स्व.पं. साधू शरण शर्मा ,खूब लड़े अंग्रेजो से।

ये भी पढ़ें:-याद किये गये चाकी।

Ramnavmi Celebrated with Sava Man Laddu
विज्ञापन
Ramnavmi Celebrated with Sava Man Laddu
विज्ञापन

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।

error: Content is protected !!