नहीं रहे प्रणब दा, मोदी ने कहा, चले गए स्टेट्समैन

नहीं रहे प्रणब दा, मोदी ने कहा, चले गए स्टेट्समैन

नई दिल्ली। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का सोमवार शाम निधन हो गया। वे 84 वर्ष के थे। मुखर्जी पिछले कुछ सप्ताह से बीमार चल रहे थे और दिल्ली के अस्पताल में उनका उपचार चल रहा था।

उनके बेटे अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट कर प्रणब मुखर्जी के निधन की जानकारी दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर उनके निधन पर शोक जताया। अपने शोक संदेश में उन्होंने लिखा, प्रणब मुखर्जी के निधन से पूरा देश दुखी है। वह एक स्टेट्समैन थे, जिन्होंने राजनीतिक और सामाजिक क्षेत्र के हर तबके की सेवा की है। प्रणब मुखर्जी ने अपने राजनीतिक करियर के दौरान आर्थिक और सामरिक क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान दिया। वे एक शानदार सांसद थे, जो हमेशा पूरी तैयारी के साथ जवाब देते थे।

-विज्ञापन-

Mokama ,मोकामा

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 9990436770

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर श्रद्धांजलि देते हुए कहा, प्रणब मुखर्जी के निधन की खबर सुनकर दुख हुआ। उनका जाना एक युग का अंत है। प्रणब मुखर्जी ने देश की सेवा की, आज उनके जाने पर पूरा देश दुखी है। असाधारण विवेक के धनी, भारत रत्न श्री मुखर्जी के व्यक्तित्व में परंपरा और आधुनिकता का अनूठा संगम था। 5 दशक के अपने शानदार सार्वजनिक जीवन में, अनेक उच्च पदों पर आसीन रहते हुए भी वे सदैव जमीन से जुड़े रहे। अपने सौम्य और मिलनसार स्वभाव के कारण राजनीतिक क्षेत्र में वे सर्वप्रिय थे।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृहमंत्री अमित शाह, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, राजद नेता लालू प्रसाद यादव, बिहार के सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री नीरज कुमार आदि ने प्रणब मुखर्जी के निधन पर शोक संवेदना प्रकट की।

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।

error: Content is protected !!