Patna STF की टीम ने कुख्यात संजीव सिंह को किया गिरफ्तार,₹ 50,000 का था इनाम।

कुख्यात संजीव सिंह गिरफ्तार।

बिहार।पटना।जमुई।बेगूसराय। Patna STF टीम ने शनिवार को ₹50000 के इनामी अपराधी को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए अपराधी की पहचान बेगूसराय जिला के नावकोठी थाना के संजीव कुमार सिंह के रूप में हुई है। Patna STF की टीम ने संजीव के पास से एक पिस्टल कुछ गोली के अलावा मोबाइल फोन और 11 अलग-अलग कंपनियों के सिम कार्ड भी जप्त किए हैं।

-विज्ञापन-

Mokama ,मोकामा

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 79821 24182

नए-नए सिम कार्ड इस्तेमाल करके पुलिस को चकमा दे रहा था संजीव ।

ज्ञात हो कि संजीव कुमार अलग-अलग कंपनियों के नए-नए सिम लेकर हमेशा पुलिस को चकमा देता रहता था। नए-नए सिम कार्ड इस्तेमाल करने के वजह से पुलिस की सर्विलांस टीम को भी वह चकमा देने में माहिर हो गया था। संजीव की गिरफ्तारी पटना एसटीएफ के द्वारा शनिवार को जमुई के बरहट थाना क्षेत्र में हुई है। Patna STF की टीम ने मीडिया को बताया कि पुलिस को बहुत सारे अपराध में अरे लंबे समय से संजीव की तलाश थी। संजीव के ऊपर दर्जनों अपराधिक मुकदमे दर्ज हैं।(Patna STF)

संजीव की गिरफ्तारी को पुलिस की बड़ी कामयाबी बताई जा रही है।

संजीव की गिरफ्तारी को पुलिस की बड़ी कामयाबी बताई जा रही है।sanjeev कुमार सिंह की गिरफ्तारी के बाद Patna STF टीम को पुरुस्कृत किये जाने की सम्भावना है । ज्ञात हो कि बिहार एसटीएफ की स्थापना 21 वर्ष पूर्व सन 2000 में हुई थी।उस समय संगठित अपराध और नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए इस विशेष बल का गठन किया गया है। एसटीएफ की वर्तमान में कुल तीन इकाइयां हैं। जिन्हें स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी), स्पेशल इंटेलिजेंस ग्रुप (एसआईजी) और चीता के नाम से जाना जाता है।एसटीएफ के जवान से लेकर इस्पेक्टर तक को 50 प्रतिशत और उससे ऊपर के अफसरों को 40 प्रतिशत विशेष भत्ता दिया जाता है। यह मूल वेतन के उपर देय होता है।(Patna STF)

मोकामा ऑनलाइन की वाटस ऐप ग्रुप से जुड़िये और खबरें सीधे अपने मोबाइल फ़ोन में पढ़िए ।

मोकामा बाजार में उतरे आधुनिक ठग (Fraud), महिलाओं को बनाते हैं शिकार, आज 2 लाख की ठगी।

शादी के 18 साल बाद बीपीएससी सफल होने वाली संगीता कुमारी की प्रेरणास्पद कहानी

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।