मोकामा के लाल Panakj Kumar की उपलब्धि पर ग्रामीणों ने जताया हर्ष

ग्रामीणों ने मिठाईयां बांटकर खुशियां मनाई(Panakj Kumar)

मोकामा। आईएएस पंकज कुमार (Panakj Kumar) के गुजरात के मुख्य सचिव बनने पर उनके पैतृक शहर मोकामा में ग्रामीणों ने मिठाईयां बांटकर खुशियां मनाई। पंकज कुमार का निवास स्थान मोकामा के सकरवार टोला वार्ड नं 16 में है। इनके पिता डॉ त्रिशूलधारी सिन्हा कृषि वैज्ञानिक थे।
चार भाई बहनों में सबसे छोटे पंकज कुमार (Panakj Kumar) ने मोकामा के रुद्रावती हाई स्कूल से दसवीं पास की। पूत के पांव पालने में दिखने को चरितार्थ करते हुए उन्होंने पटना के साइंस कॉलेज से आगे की पढ़ाई की और बाद में आइआइटी में सफलता पाई।
गुजरात कैडर के आइएएस बनने के बाद भी मोकामा से पंकज कुमार का जुड़ाव बना हुआ है। न सिर्फ पारिवारिक आयोजनों में वे मोकामा आते रहते हैं बल्कि सामाजिक गतिविधियों में भी मार्गदर्शन करते हैं। गांव के लोगों का कहना है कि मोकामा टाल में खेती से जुड़े मामले हों या युवा वर्ग को सफल पेशेवर बनने का मार्गदर्शन हर मसले में वे मोकामा के लोगों से बात करते हैं।

-विज्ञापन-

Mokama ,मोकामा

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 79821 24182

मोकामा से दसवीं पास की, गांव से है गहरा लगाव

शिक्षक चंदन कुमार ने बताया कि कुछ वर्ष पूर्व जब पंकज कुमार(Panakj Kumar) मोकामा में थे तब विद्यार्थियों के पारितोषिक वितरण समारोह में वे अचानक पहुँचकर सबको सुखद आश्चर्य में डाल दिया।गांव के बेटे को गुजरात का सर्वोच्च कमान मिलने पर मोकामा के बाजार चौक पर लोगों ने एक दूसरे को गुलाल लगाया। वहीं विभिन्न शिक्षण संस्थानों द्वारा इस उपलब्धि से प्रेरणा लेने की विद्यार्थियों को सीख दी गई। पंकज कुमार के पारिवारिक सदस्यों के पास दिन भर लोगों का बधाई देने का तांता लगा रहा।

ज्ञात हो कि गुजरात के मुख्य सचिव अनिल मुकीम के बाद राज्य में सबसे वरिष्ठ आईएएस अधिकारी पंकज कुमार को अगला मुख्य सचिव बनाया गया है। 1986 बैच के अधिकारी पंकज कुमार 31 अगस्त को अनिल मुकीम के सेवानिवृत्त होने के बाद राज्य की नौकरशाही में शीर्ष पद का कार्यभार संभालेंगे।प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे तो पंकज कुमार 4 साल उनके प्रिंसपल सेक्रेट्री रह चके हैं।

Pankaj Kumar
आईएएस पंकज कुमार (Panakj Kumar) के गुजरात के मुख्य सचिव बनने पर उनके पैतृक शहर मोकामा में ग्रामीणों ने मिठाईयां बांटकर खुशियां मनाई। पंकज कुमार का निवास स्थान मोकामा के सकरवार टोला वार्ड नं 16 में है। इनके पिता डॉ त्रिशूलधारी सिन्हा कृषि वैज्ञानिक थे।

RTI एक्टिविस्ट ने सीएम से लगाई गुहार, बदले की भावना से भ्रष्टाचारी कर रहे हमला।

शादी के 18 साल बाद बीपीएससी सफल होने वाली संगीता कुमारी की प्रेरणास्पद कहानी

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।