सरकारी डॉक्टर की अनुपस्तिथि ने ली एक महिला की जान

पटना से हावड़ा जाने वाली पटना हावड़ा जनशताब्दी एक्सप्रेस में पटना से खुलते ही एक महिला यात्री की तबियत खराब होने लगी।उन्होंने टीटीई को इसकी जानकारी दी लेकिन उपचार के अभाव में महिला की जान चली गई।02024 जनशताब्दी एक्सप्रेस के डी-9 कोच में यात्रा कर रही कोलकाता की एक महिला यात्री ने ट्रेन के पटना जंक्शन से खुलते ही टीटीई से सीने में दर्द की शिकायत की थी, टीटीई ने महिला यात्री के बीमार  होने की सूचना पटना सिटी स्टेशन पर ही दे दी थी पर वहां इलाज की कोई व्यवस्था नहीं थी इस कारण दानापुर कंट्रोल रूम को इसकी सूचना दे दी गई थी।

-विज्ञापन-

Mokama ,मोकामा

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 79821 24182

टीटीई के सूचना देने के वावजूद बख्तियारपुर, मोकामा जैसे बड़े स्टेशनों पर डॉक्टर अनुपस्तिथ पाए गए जिस वजह से महिला यात्री की तबियत बिगड़ती चली गई ।गाड़ी जब कियूल में रुकी तो डॉक्टर यात्री के पास पहुँचे जंहा उसे मृत घोषित कर दिया गया।मृतक महिला यात्री की पहचान अलेक्जेंडर ल्यूकस की 56 वर्षीया पत्नी रोशिता ल्यूकस के रूप में की गई है।इसके परिजनों को सूचना दे दी गई है।परिजनों ने बताया कि महिला पहले से ही हृदय रोग और उच्च रक्तचाप से पीड़ित थी तथा उनका इलाज भी चल रहा था।

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।