प्रख्यात परमाणु वैज्ञानिक एवं परमाणु ऊर्जा आयोग के पूर्व अध्यक्ष डाॅ0 शेखर बसु के निधन पर मुख्यमंत्री ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त की

प्रख्यात परमाणु वैज्ञानिक एवं परमाणु ऊर्जा आयोग के पूर्व अध्यक्ष डाॅ0 शेखर बसु के निधन पर मुख्यमंत्री ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त की

पटना, 24 सितम्बर 2020:- मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने प्रख्यात परमाणु वैज्ञानिक एवं परमाणु ऊर्जा आयोग के पूर्व अध्यक्ष डाॅ0 शेखर बसु के निधन पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है।
अपने शोक संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा है कि परमाणु वैज्ञानिक डाॅ0 शेखर बसु का निधन देश के लिये एक बहुत बड़ी क्षति है। उन्हें परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में विशिष्ट योगदान के लिये 2014 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था। भारत की परमाणु ऊर्जा से संचालित पहली पनडुब्बी आई0एन0एस0 अरिहंत के निर्माण में डाॅ0 बसु ने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी थी। डाॅ0 शेखर बसु का जन्म मुजफ्फरपुर में हुआ था। ये असाधारण प्रतिभा के धनी थे और परमाणु विज्ञान के क्षेत्र में देश को स्थापित करने में इनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है। मुजफ्फरपुर जिले में स्थापित होने वाले होमी भाभा कैंसर हाॅस्पीटल एंड रिसर्च सेंटर में भी उनकी अहम भूमिका रही है। उनके निधन से परमाणु विज्ञान एवं इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अपूरणीय क्षति हुयी है।
मुख्यमंत्री ने ईश्वर से दिवंगत आत्मा की चिर शांति तथा दुख की इस घड़ी में उनके परिजनों को धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की कामना की है।
’’’’’’

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।