चन्दन चमकायेंगे लोजपा मिली जिम्मेदारी

लोजपा टूट चुकी है.इसके 5 सांसद ने लोक सभा स्पीकर को पत्र लिखकर नये गुट को मान्यता देने का आवेदन किया है.जमुई सांसद चिराग पासवान अब अकेले पड़ चुके हैं.हाजीपुर से सांसद पशुपति कुमार पारस ने कहा, ‘मैंने पार्टी को तोड़ा नहीं, बल्कि बचाया है’.सांसद पशुपति कुमार पारस अकसर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सराहना करते नजर आते हैं जबकि जमुई सांसद चिराग पासवान नितीश कुमार के कट्टर आलोचक बन चुके है.सभी बागी सांसदों ने लोक सभा स्पीकर को लिखे पत्र में हाजीपुर से सांसद पशुपति कुमार पारस को अपना नेता चुन लिया है.

-विज्ञापन-

Mokama ,मोकामा

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 79821 24182

लोजपा के बागी पांच सांसदों की ओर से लोकसभा स्पीकर ओम बिरला को सौंपे गए समर्थन पत्र में लिखा है कि वे पशुपति कुमार पारस को अपना नेता घोषित कर रहे हैं.समर्थन पत्र में लिखा गया है कि पशुपति कुमार पारस एलजेपी के लोकसभा संसदीय दल के नेता होंगे .समस्तीपुर से सांसद मेहबूब अली कैसर लोकसभा संसदीय दल के उपनेता होंगे,बलिया के पूर्व सांसद सूरजभान सिंह के भाई और नवादा से सांसद चंदन सिंह लोकसभा में पार्टी के मुख्य सचेतक होंगे.पशुपति कुमार पारस चिराग पासवान को अलग करने के बाद लोजपा को मजबूत करने में लग चुके हैं. उन्होंने पार्टी में पद देने में सभी जाति और धर्म के समीकरण का पूरा ध्यान रखा है.दलित ,मुस्लिम, भूमिहार के चुनावी समीकरण का ख्याल रखते हुए पद का बटवारा किय गया है.पशुपति पारस दलित, महबूब अली कैसर मुस्लिम और चंदन सिंह भूमिहार समाज से आते हैं. पशुपति पारस ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संदेश देने की कोशिश की है कि वह स्व. रामविलास पासवान की तरह समाज के हर तबके के लोगों को साथ लेकर चलना चाहते हैं.अब पशुपति पारस ही लोजपा को आगे ले जायेंगे .

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।