मोकामा में गंगा से दो बच्चों सहित माँ के शव मिलने का यह था हैरतअंगेज कारण

मोकामा। मोकामा में गंगा किनारे से दो बच्चों सहित एक महिला के शव बरामद होने के मामले में मौत का कारण विवाहोत्तर सम्बंध बताया जा रहा है। कथित तौर पर कहा जा रहा है कि अनैतिक सम्बन्धो के उजागर होने के कारण ही महिला और उसके दोनों बच्चों की जान गई। हालांकि मृतक महिला के मायके पक्ष ने उसके ससुराल वालों पर हत्या कर शवो को गंगा नदी में फेंकने का आरोप लगाया है।

गुरुवार को मोकामा के सूर्यनारायण घाट के पास दो बच्चों के शव मिले थे और शुक्रवार को उसकी माँ का शव भी 500 मीटर दूरी पर मिला। धौरानी टोला के पास भूतनाथ और अचारी स्थान गंगा घाट के बीच महिला का शव बरामद हुआ। मृतकों की पहचान मोकामा थाना क्षेत्र के कन्हाईपुर गांव के सुजीत कुमार पासवान की पत्नी और बच्चों के रूप में हुई है।

मोकामा थानांतर्गत कन्हाईपुर गांव के सुजीत का विवाह 7 साल पहले नालंदा जिले के नूरसराय थाना अंतर्गत चांदसी गांव की अर्चना देवी (26) से हुआ था। दम्पत्ति को 5 साल की बेटी और 3 साल का बेटा था। सुजीत के भाई छोटू कुमार की मानें तो लखीसराय जिले के क्यूल में उसकी एक रिश्तेदार रहती है। कुछ साल पूर्व अर्चना वहां गई थी। वहीं उसका परिचय बच्चू राम के बेटे राजेश कुमार से हुआ और दोनों में अनैतिक सम्बंध बना। जब इसकी जानकारी सुजीत को मिली तब ससुराल पक्ष को बुलाकर उसनरे पत्नी को समझाने की कोशिश की। हालांकि इसके कुछ सप्ताह बाद ही अर्चना फिर से राजेश के साथ भाग गई, पर फिर से परिवार के दवाब में ससुराल लौट गई।

29 को हुआ सुलहनामा, 1 को मिली लाशें
जून के अंतिम सप्ताह में फिर से अर्चना अपने कथित प्रेमी के साथ फरार हो गई। तीन दिनों की खोजबीन के बाद अर्चना और राजेश को वापस कन्हाईपुर गांव लाया गया। गांव में 29 जून को लगी पंचायत में सुलहनामा हुआ कि अब से राजेश अर्चना से कोई सम्बंध नहीं रखेगा। राजेश ने इस पर सहमति जताई। स्थानीय लोगों की माने तो राजेश की सहमति से अर्चना विक्षिप्त की भांति रोने लगी और राजेश के साथ जाने का जिद करने लगी। इस बीच 30 जून को अर्चना दोनों बच्चों के साथ गायब हो गई। गुरुवार को बच्चों का तथा शुक्रवार को अर्चना का शव मोकामा में बरामद हुआ।

पटना ग्रामीण एसपी कांतेश मिश्र ने बताया कि शुरुआती तौर पर मामला विवाहोत्तर सम्बंध से उपजे विवाद का प्रतीत होता है। अर्चना के परिजनों की शिकायत के अनुरूप भी जांच होगी। इस मामले मोकामा थाना इंस्पेक्टर राजनंदन के नेतृत्व में हर पहलू को ध्यान में रखकर जांच की जा रही है।

अर्चना के पिता रामानंद पासवान ने बताया कि उनकी बेटी और नाती-नतिनी की हत्या की गई है। उन्होंने अर्चना के पति सुजीत पासवान, ससुर अशोक पासवान, सास किरण देवी, देवर छोटू पासवान को नामजद आरोपी बनाया गया है।

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।