जलमग्न मोकामा टाल से परेशान किसानों का धरना शुरू

मोकामा। मोकामा बड़हिया टाल क्षेत्र में रबी फसलों की बुआई में संभावित देरी से आशंकित किसानों ने गुरुवार को टाल से पानी निकालने की समुचित व्यवस्था करने की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया।

मरांची में जुटे आसपास के गांवों के किसानों का कहना है कि टाल में बुआई का आर्दश समय 15 अक्टूबर से आरंभ हो जाता है। लेकिन, इस वर्ष अभी तक औंटा, हाथीदह, मरांची, कन्हाईपुर आदि गांवों के टाल इलाके में 8 से 15 फीट पानी है। टाल से पानी निकलने में एक महीने का समय लग सकता है। इससे बुआई में विलंब होगा।

वहीं मोकामा बड़हिया टाल के ऊपरी इलाकों में भी निर्धारित समय से तीन से चार सप्ताह के विलम्ब से बुआई की संभावना है। किसानों की मांग है कि हाथीदह के पास से एक वैकल्पिक कट बनाकर टाल के पानी को गंगा नदी में निकाला जाए, जिससे टाल में जल्द बुआई हो सकेगी।

गौरतलब है कि पिछले साल भी टाल के निचले इलाकों में नवम्बर अंतिम सप्ताह तक पानी भरा था। इस कारण मरांची टाल के सैंकड़ों एकड़ भूभाग में बुआई नहीं हुई। साथ ही जहां बुआई हुई वहां कम पैदावार के कारण परेशानी आई। इस बार भी किसानों को यही आशंका है।

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।