पार्सल ब्लास्ट केस को लेकर मोकामा रेलपुलिस हाई अलर्ट

बिहार।पटना।झाझा।कियूल।मोकामा। हाल में हुए दरभंगा रेल पार्सल ब्लास्ट कांड का असर रेलवे की सुरक्षा व्यवस्था पर भी साफ दिखने को मिल लगा है। आतंकी वारदात की साजिश को ध्यान में रखकर मेन लाइन की रेल के अलावा रेलवे स्टेशन परिसर पर भी निगरानी बढ़ा दी गई है। रेलवे पुलिस एजेंसियां हाई अलर्ट मोड में तैयार है। हावड़ा-पटना मेन लाइन से होकर गुजरने वाली तमाम ट्रेनों पर सख्ती से नज़र रखी जा रही है। आरपीएफ भी कुछ ट्रेन विशेष को ध्यान में रखते हुए सतर्क हो चुकी है।

झाझा सहित कई मुख्य रेलवे स्टेशनों से ट्रेनों में अपलोड-अनलोड होने वाले पार्सलों की भी पूरी सतर्कता के साथ जांच की जा रही है। आरपीएफ,झाझा के सहायक सुरक्षा आयुक्त (एएससी) हीरा प्र.सिंह ने दरभंगा ब्लास्ट केस की पृष्ठभूमि में पुलिस बल के अलर्ट मोड में होने तथा सतर्कता,सावधानी व निगहबानी आदि की कवायद जारी रहने की बात स्वीकारी है। उन्होंन बताया कि उनके क्षेत्राधिकार में पड़ने वाले मेनलाइन पर झाझा से ले बख्तियारपुर तक के झाझा,किऊल,मोकामा व बख्तियारपुर आदि सभी आरपीएफ पोस्टों के आईपीएफ का इस संदर्भ में मुख्यालय के दिशा निर्देशों का अनुसरण करते हुए ट्रेनों व स्टेशन परिसर पर चौकन्ने रखने के साथ-साथ अवांछित अथवा संदिग्द्ध तत्वों व सामानों की भी जांच का ध्यान रखना है। 
रेलगाड़ियों में चलने वाली एस्कॉर्ट पार्टियों को भी सतर्क रहने की हिदायतें दी गई हैं। उन्होंने बताया कि जरूरी समझे जाने पर डॉग स्कवॉयड की सेवा भी ली जा सकती है। जानकारीनुसार इस क्रम में रेल पुलिस के किऊल स्थित डीएसआरपी एवं जिला पुलिस संग भी समंवय कायम किया जा रहा है।

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।