रेलवे का नया आदेश अगले छह महीने यात्रियों की जेब ढीली करेगा

रेलवे का नया आदेश अगले छह महीने यात्रियों की जेब ढीली करेगा।

पटना।(Mokama Online News 04) भारतीय रेल ने गुरुवार को एक महत्वपूर्ण घोषणा की जिससे फिलहाल यात्रियों को भारीभरकम किराया चुकाकर रेल यात्रा करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। रेलवे ने कहा है कि कोरोना के कारण रेल ने जो स्पेशल ट्रेन परिचालन शुरू किया है इसकी अवधि अगले छह महीने के लिए बढ़ा दी गई है।

मोकामा ऑनलाइन की वाटस ऐप ग्रुप से जुड़िये और खबरें सीधे अपने मोबाइल फ़ोन में पढ़िए ।

पैसेंजर ट्रेनों को भी स्पेशल ट्रेन के रूप में एक्सप्रेस के बढ़े किराए के साथ ही चलाया जाएगा।

यानी यात्रियों को अगले छह महीने तक कोरोना स्पेशल ट्रेन के नाम पर भारी भरकम किराया देकर सफर करना होगा। जिन ट्रेनों को स्पेशल, क्लोन आदि नाम देकर चलाया जा रहा है उन्हें इसी प्रकार अगले छह महीने तक चलाया जाएगा। यहां तक कि पैसेंजर ट्रेनों को भी स्पेशल ट्रेन के रूप में एक्सप्रेस के बढ़े किराए के साथ ही चलाया जाएगा।(Mokama Online News 03)

जिन ट्रेनों में कॉम्प्लिमेंट नाश्ता भोजन बंद किया गया है उसे भी बंद ही रखा जाएगा।

रेलवे ने स्पष्ट किया है कि कोरोना के कारण अगले आदेश तक यात्रियों को ट्रेन में कम्बल, बेड रोल आदि भी नहीं मिलेगा। हालांकि जो यात्री शुल्क भुगतान कर कम्बल आदि का लाभ लेना चाहते हैं उन्हें मिलेगा। जिन ट्रेनों में कॉम्प्लिमेंट नाश्ता भोजन बंद किया गया है उसे भी बंद ही रखा जाएगा।(Mokama Online News 04)

मोकामा ऑनलाइन के इन्स्टाग्राम पर हमसे जुड़िये ।

रेलवे के इस नए आदेश से रेल यात्रियों की जेब ढीली होनी तय है।

रेलवे के इस नए आदेश से रेल यात्रियों की जेब ढीली होनी तय है। उन्हें बिना किसी अतिरिक्त सुविधाओं के ज्यादा रेल किराया देना होगा। पिछले कुछ दिनों से ऐसी चर्चा थी कि अक्टूबर महीने में ट्रेनों का सामान्य परिचालन शुरू किया जा सकता है लेकिन रेलवे ने सभी संभावनाएं धूमिल कर दी है म अब अगले छह महीने तक स्पेशल ट्रेन में बढ़े किराए के साथ ही सफर करने की मजबूरी झेलनी पड़ेगी।

सात साथियों के शहादत के बाद भी रामकृष्ण सिंह ने सचिवालय पर झंडा फहराया था।

स्व.पं. साधू शरण शर्मा ,खूब लड़े अंग्रेजो से।

याद किये गये चाकी।

-विज्ञापन-

Mokama Online News 04
Mokama ,मोकामा
Mokama Online News 04

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 79821 24182

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।