विधायक की बोलती बंद, नहीं दिया जज के किसी सवाल का जवाब

विधायक की बोलती बंद, नहीं दिया जज के किसी सवाल का जवाब।

बिहार ।पटना। मोकामा।(Mokama Online News 03) मोकामा से लगातार पांच बार विधायक बने माननीय अनंत सिंह एके-47 सहित अन्य विस्फोटक सामग्री बरामद मामले में फिलहाल जेल में बंद हैं। इसी केस में आरोपित मोकामा विधायक अनंत सिंह की गवाही मंगलवार को नहीं हो पाई।

मोकामा ऑनलाइन की वाटस ऐप ग्रुप से जुड़िये और खबरें सीधे अपने मोबाइल फ़ोन में पढ़िए ।

विधायक ने बोलने और सुनने में असमर्थता जताई।।

अदालत ने जब अनंत सिंह से पूछा क्या आप गवाही देने के लिए तैयार हैं इस पर मोकामा विधायक कोई जवाब नहीं दे पाए। उन्होंने बोलने और सुनने में असमर्थता जताई। पटना पुलिस ने गवाही के लिए आरोपी को कोर्ट में पेश किया था।(Mokama Online News 03)

मोकामा ऑनलाइन के इन्स्टाग्राम पर हमसे जुड़िये ।

विधायक अनंत कुमार सिंह पिछले कुछ समय से बीमार चल रहे हैं।

विधायक अनंत कुमार सिंह पिछले कुछ समय से बीमार चल रहे हैं। प्रशासन की देखरेख में उनका उपचार भी चल रहा है। इसके पूर्व भी कई बार विधायक का कोर्ट में स्वास्थ कारणों से पेशी लम्बित हुआ है या उनकी गवाही नहीं हो पाई है।(Mokama Online News 03)

पेशी के दौरान भी विधायक अनंत कुमार सिंह ने स्वास्थ्य कारणों का हवाला दिया।

मंगलवार को हुई पेशी के दौरान भी विधायक अनंत कुमार सिंह ने स्वास्थ्य कारणों का हवाला दिया। उनके वकील ने कोर्ट को बताया कि विधायक का स्वास्थ बोलने के लिए अनुकूल नहीं है। इसी कारण वे इस समय गवाही नहीं दे सकते हैं।

विधायक अनंत कुमार सिंह मोकामा की जनता के बीच खासे लोकप्रिय हैं।

गौरतलब है कि विधायक अनंत कुमार सिंह मोकामा की जनता के बीच खासे लोकप्रिय हैं। वे वर्ष 2005 से लगातार यहां से चुनाव जीते हैं। 2005, 2010 ,2015 , 2020 में उन्होंने मोकामा से क्रमशः तीन बार जदयू, एक बार निर्दलीय और इस बार राजद के टिकट पर चुनाव जीता। 2020 में हुए विधनसभा चुनाव में उन्होंने जदयू के राजीव लोचन को बड़े अंतर से चुनाव में हराया था। उनकी पत्नी नीलम देवी ने 2019 में मुंगेर लोकसभा सीट से संसदीय चुनाव लडा था। उस चुनाव में ललन सिंह जो इस समय जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं, उन्होंने अनंत कुमार सिंह की पत्नी को हराया था। बाद में अनंत कुमार सिंह के  बाढ़ के नदवा स्थित पैतृक गांव से ए के 47 और

ग्रेनेड बरामद किया गया था। इसी ममाले में अनंत सिंह जेल में हैं।

सात साथियों के शहादत के बाद भी रामकृष्ण सिंह ने सचिवालय पर झंडा फहराया था।

स्व.पं. साधू शरण शर्मा ,खूब लड़े अंग्रेजो से।

याद किये गये चाकी।

-विज्ञापन-

Mokama Online News 03
Mokama ,मोकामा
Mokama Online News 03

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 79821 24182

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।