मदरसों को बंद करेगी भाजपा सरकार, विपक्ष ने कहा दुर्भाग्यपूर्ण

मदरसों को बंद करेगी भाजपा सरकार, विपक्ष ने कहा दुर्भाग्यपूर्ण

गुवाहाटी। असम की भाजपा सरकार ने राज्य में संचालित सभी सरकारी मदरसों को बंद करने का निर्णय लिया है। जल्द ही इस निर्णय के आलोक में अधिसूचना जारी होने की संभावना है।

राज्य की भाजपा सरकार में मंत्री हिमांता बिस्व शर्मा ने कहा कि राज्य के सभी सरकारी मदरसे बंद किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जनता के रुपयों से धार्मिक शिक्षा देने का प्रावधान नहीं है। इसलिए हमारी सरकार में अब सरकारी मदरसे नहीं संचालित होंगे।

माना जा रहा है कि नवम्बर महीने में इस आदेश की अधिसूचना जारी कर दी जाएगी। हालांकि मंत्री ने कहा कि निजी पमदरसों के संचालन पर कोई रोक नहीं है। निजी स्तर पर मदरसे संचालित किए जा सकते हैं।

भाजपा सरकार के इस निर्णय का अब विपक्ष ने विरोध शुरू कर दिया है। AIUDF प्रमुख और लोक सभा सांसद बदरुद्दीन अजमल ने कहा कि भाजपा सरकार का यह निर्णय दुर्भाग्यपूर्ण है। अगले साल राज्य में चुनाव है। इसी कारण भाजपा अब धार्मिक धुर्वीकरण के मकसद से यह निर्णय ले रही है। उन्होंने कहा कि जब राज्य में हमारी सरकार आएगी तो हम फिर से सरकारी मदरसों को खोल देंगे। राज्य में करीब 600 सरकारी और 900 निजी मदरसे हैं।

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।