लोजपा का जदयू में विलय मेरे मरने पर -सूरजभान

बिहार|पटना|लोजपा के कार्यकारी अध्यक्ष बनने के बाद सूरजभान सिंह काफी सम्भले हुए हैं.उन्होंने एक साक्षत्कार में साफ़ शब्दों में कहा कि लोजपा टूटी नहीं है,परिवार और पार्टी एक है कुछ दिनों के लिए पशुपति कुमार पारस को लोजपा का नेतृत्व दिया गया है.चिराग पासवान ही पार्टी के राजकुमार हैं और वहीँ रहेंगे मगर अभी पार्टी विधानसभा में अच्छा नहीं कर पाई है जिस वजह से सभी कार्यकर्ता निराश हैं.लोजपा लोकतंत्र के सबसे निचले पायदान पर खिसकती जा रही थी इसलिए पार्टी कार्यकर्ताओं के मनोबल को बनाये रखने के लिए यह कदम जरुरी था.सूरजभान सिंह ने कहा कि लोजपा चिराग पासवान की पार्टी है, हमसब मिल बैठकर मामला सुलझा लेंगे पार्टी भी बचेगा और परिवार भी बचा रहेगा . चिराग पासवान को चाहिए कि कुछ दिन पशुपति कुमार पारस को लोजपा चलाने दें.

-विज्ञापन-

Mokama ,मोकामा

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 79821 24182

उन्होंने लोजपा के जदयू में मिलने की बात को भी सिरे से नकार दिया.उन्होंने कहा की जबतक वः जिन्दा हैं तब तक लोजपा जदयू में नहीं मिलेगी.उन्होंने कहा कि लोजपा एनडीए का हिस्सा है और वः एनडीए के सभी घटक दलों का सम्मान करते हैं.

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।

error: Content is protected !!