janmashtami 2021 गंगा किनारे कृष्ण भक्ति में कठिन व्रत को बैठी महिलाएं

अपने परिजनों को अकाल मृत्यु से रक्षा के लिए महिलाएं कर रहीं है janmashtami 2021 का कठिन व्रत।

janmashtami 2021 बिहार।पटना।मोकामा।अपने परिजनों को अकाल मृत्यु से रक्षा के लिए महिलाएं कर रहीं है जन्माष्टमी का कठिन व्रत।एकादशी से भी ज्यादा पुण्य वाला व्रत बताया जाता है जन्माष्टमी के इस व्रत को।आज पूरा दिन फलाहार पर गुजारने के बाद कल पूरा दिन निर्जला गुजारेंगी।जन्माष्टमी के दिन 12 बजे व्रत का पाराण होगा।

-विज्ञापन-

Mokama ,मोकामा

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 79821 24182

रात के 12:00 बजे बाल गोपाल को भोग लगाकर प्रसाद ग्रहण करेंगे।

श्रीकृष्ण की भक्ति में डूबे जन्म भक्तों के लिए आज और कल का दिन बहुत महत्वपूर्ण है आज पूरा दिन फलाहार पर रहने के बाद कल पूरा दिन निराहार रहेंगे। पूरा दिन जाप करेंगे कृष्ण की भक्ति करेंगे और रात के 12:00 बजे बाल गोपाल को भोग लगाकर प्रसाद ग्रहण करेंगे। गर्भवती महिलाओं के लिए यह व्रत काफी मायने रखता है ।मान्यता है कि अगर गर्भवती महिलाएं यह व्रत करती है तो इसका फल उसके होने वाले बच्चे को भी मिलेगा।(janmashtami 2021)

भाद्रपद मास की कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को भगवान श्री कृष्ण का जन्म हुआ था।

ज्ञात हो कि भाद्रपद मास की कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को भगवान श्री कृष्ण का जन्म हुआ था। द्वापर युग में जन्म में भगवान कृष्ण के जन्मदिन को जन्माष्टमी की तरह बड़े धूमधाम से मनाने की परंपरा रही है। पूरे पूरे दिन उपवास में रहकर रात के 12:00 बजे भगवान श्री कृष्ण को 56 भोग अर्पित किया जाता है और उसके बाद ही प्रति अपना व्रत खोलते हैं।….जय कन्हैया लाल की(janmashtami 2021)

janmashtami 2021
janmashtami 2021 गंगा किनारे कृष्ण भक्ति में कठिन व्रत को बैठी महिलाएं

मोकामा ऑनलाइन की वाटस ऐप ग्रुप से जुड़िये और खबरें सीधे अपने मोबाइल फ़ोन में पढ़िए ।

मोकामा बाजार में उतरे आधुनिक ठग (Fraud), महिलाओं को बनाते हैं शिकार, आज 2 लाख की ठगी।

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।