उफान पर है गंगा, मुश्किल में है जिंदगानी।

बिहार ।पटना। मोकामा।पिछले कई दिनों से मोकामा और आसपास में गंगा का पानी खतरे के निशान से ऊपर बह रहा है। कई जगहों पर तो खतरे का निशान पार कर चुकी गंगा भयावह रूप ले चुकी है। कई जगह पर गंगा का पानी तो गांव में प्रवेश कर चुका है ।मोकामा में 2016 और 2018 जैसे हालात बनने की आशंका है।
मोकामा सीआरपीएफ अवस्थित शौर्य वन पूरी तरह से जलमग्न हो चुका है जिसमें हजारों फलदार और छाया वाले पौधे लगे हुए हैं। इस शौर्य वन में हजारों परिंदों का ठिकाना है जबकि यंहा पर देश में शहीद हुए जवानों और उनके परिजनों को समर्पित पेड़ भी। मोकामा में 2016 वाले हालात बनते जा रहे हैं, मोकामा विधानसभा क्षेत्र के लगभग 7 गांव में गंगा का पानी प्रवेश कर चुका है लगभग 12000 की आबादी प्रभावित हुई है ।मोकामा के हाथीदह में गंगा खतरे के निशान से ऊपर बह रही है, तपस्वी स्थान , महादेव स्थान , सूर्यनारायण मंदिर का घाट हो सभी जगह गंगा खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।