पूर्व डीजीपी अभयानंद ने भ्रष्टाचार के खिलाफ शुरू की मुहिम।

बिहार ।पटना। बिहार के पूर्व डीजीपी अभयानंद ने भ्रष्टाचार के खिलाफ सोशल मीडिया पर मुहिम छेड़ दी है ।उन्होंने सोशल मीडिया पर लोगों खासकर युवाओं से आवाहन किया कि आइए भ्रष्टाचार को उखाड़ फेंके। आने वाले चुनाव में भ्रष्टाचार मुख्य मुद्दा बने, भ्रष्टाचार के मुद्दे पर ही हम अपना जनप्रतिनिधि चुने ।उन्होंने सोशल मीडिया पर युवाओं से अपील की वे अपने पोस्ट में हैश टैक्स चुनावी मुद्दा भ्रष्टाचार का इस्तेमाल करें और इसे सोशल मीडिया पर ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुँचाए। उन्होंने अपनी फेसबुक पोस्ट पर एक नई हेडिंग दी है पुरानी सीख पर नई सोच। इस पोस्ट में उन्होंने लिखा है कि प्रशिक्षण के दिनों वह एसपी कार्यालय में थोड़ी देर एसपी के साथ बैठते थे। उनके पास जो कागजात आते थे वह एसपी को पढ़ने के लिए बढ़ा देते थे। एक दिन कौतूहल बस किसी ने पूछा कि कुछ स्थानों से शिकायतें अधिक आती हैं तो कुछ से एकदम नहीं आती ।इस पर एसपी साहब मुस्कुराते हुए बोले कि जो थानेदार अपने थाने की आमदनी का बंटवारा कर्मियों में ठीक से करता है वहां से शिकायत नहीं आती जहां ऐसा नहीं होता वँहा प्रत्येक कर्मी अपनी शक्ति के अनुसार लूटमार में लग जाता है ।इसलिए वहां से शिकायतें ज्यादा आती है पूर्व डीजीपी ने लिखा है कि वर्तमान में राजनीतिक पार्टियों में चल रहा अंतरकलह भी भ्रष्टाचार का जीता जागता उदाहरण है। इस पोस्ट के बाद सोशल मीडिया फेसबुक पर पूर्व डीजीपी अभयानंद का यह पोस्ट काफी वायरल हो रहा है। कई यूजर पूर्व डीजीपी के साथ हैं और तरह तरह से प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं। जबकि कुछ यूजर के लगता है कि भ्रष्टाचार की बीमारी हमारे रग-रग में फैल चुकी है और इसका इलाज असंभव है।

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।

error: Content is protected !!