लालटेन और ढिबरी युग किया समाप्त अब हर खेत तक पहुंचेगी बिजली : नीतीश

लालटेन और ढिबरी युग किया समाप्त अब हर खेत तक पहुंचेगी बिजली : नीतीश

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि अगर आगामी विधानसभा चुनाव में पुनः उनके नेतृत्व में सरकार बनती है तो किसानों को सिंचाई के लिए हर खेत तक बिजली पहुंचाया जाएगा। उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ऊर्जा विभाग की 4855.37 करोड़ रुपए की लागत की विभिन्न योजनाओं का किया शिलान्यास, कार्यारंभ, लोकार्पण एवं उद्घाटन किया।

-विज्ञापन-

Mokama ,मोकामा

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 9990436770

मुख्यमंत्री ने कहा कि सत्ता में आने के बाद से वर्ष 2005 से ही बिजली की स्थिति में सुधार के कार्य किये गये। आज लालटेन और ढिबरी की जरूरत समाप्त हो गयी है। हर घर बिजली का कनेक्शन देने का कार्य लक्ष्य से पूर्व अक्टूबर 2018 में ही पूरा कर लिया गया था साथ ही जर्जर बिजली के तारों को 2019 के अंत तक बदल दिया गया है।

लोक शिकायत निवारण कानून के तहत बिजली बिल से संबंधित काफी शिकायतें आती हैं जिनका निवारण किया जाता है। मीटर रीडिंग की गड़बड़ी तथा बिजली के दुरूपयोग को रोकने का एक ही उपाय प्री-पेड मीटर है। बिहार की हर घर बिजली कनेक्शन देने की योजना को केन्द्र सरकार ने भी अपनाया है साथ ही प्री-पेड मीटर लगाने की योजना को भी केन्द्र सरकार अपना रही है।

उन्होंने कहा कि सभी इच्छुक किसानों को पटवन के लिये बिजली का कनेक्शन उपलब्ध करा दिया जायेगा। इसके लिये अलग फीडर की व्यवस्था की गयी है। आगे काम करने का मौका मिला तो हर खेत तक सिंचाई के लिये पानी पहुॅचायेंगे। इस दिशा में जल संसाधन विभाग, लघु जल संसाधन विभाग एवं ऊर्जा विभाग मिलकर कार्य कर रहे हैं।

बिजली के माध्यम से सिंचाई करने में लागत कम आती है। डीजल से पटवन में पहले जहाॅ 100 रुपये खर्च होते थे अब बिजली से उस पर 5 रुपये से भी कम खर्च हो रहे हैं। इससे किसानों की आमदनी बढ़ रही है। जल-जीवन-हरियाली योजना भू-जलस्तर को बरकरार रखेगा। इससे पर्यावरण भी सुरक्षित होगा।

कोरोना काल में निर्बाध बिजली की उपलब्धता के कारण ही लोग अपने घरों में बिना तकलीफ के रहे तथा बच्चों की भी पढ़ाई बाधित नहीं हुयी। सौर ऊर्जा ही अक्षय ऊर्जा है, ज्यादा से ज्यादा लोगों को सौर ऊर्जा के प्रति प्रेरित करें। ऊपर बिजली-नीचे मछली योजना को अधिक से अधिक जगहों पर क्रियान्वित करने की जरूरत है। इससे पर्यावारण की सुरक्षा होगी, बिजली की उपलब्धता के साथ लोगों की आमदनी भी बढ़ेगी। लोगों के लिये जो भी करना संभव होगा करेंगे। लोगों को दी जा रही सुविधाओं में कोई कमी नहीं आने दी जायेगी।

नीतीश कुमार ने ऊर्जा विभाग की 1341.31 करोड़ रूपये की लागत की विभिन्न योजनाओं का किया उद्घाटन। 3130.54 करोड़ रूपये की लागत से जर्जर तारों को बदलने के कार्य का औपचारिक लोकार्पण एवं 383.52 करोड़ रूपये की विभिन्न योजनाओं का शिलान्यास एवं कार्यारंभ किए।

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।