एक विवाह ऐसा भी

एक विवाह ऐसा भी ना घोड़ी पर ना गाड़ी, दुल्हन को लेने बैलगाड़ी पर बारात लेकर पहुंचा दूल्हा।महंगी विदेशी गाड़ियों और हेलिकॉप्टर से दूल्हे के आने की खबरें तो खूब पढ़ने को मिलती हैं, मगर रविवार को देवरिया जिले के कुशहरी से अनूठी बारात निकली। इसमें बाजे-गाजे थे, उत्साह भी था। और सबसे खास थी बारातियों की सवारी। दूल्हे छोटेलाल ने अपनी बारात बैलगाड़ियों पर निकाली। सजी-धजी 20-25 बैलगाड़ियों के साथ नाचते-गाते बाराती चलते रहे, जबकि दूल्हे के अलावा 50 से अधिक लोग इन पर सवार थे। दूल्हे के बैठने के लिए डोली का इंतजाम था।

-विज्ञापन-

Mokama ,मोकामा

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 79821 24182

दूल्हे राजा बने छोटे लाल जी ने बताया कि यह उनके बचपन की इच्छा थी,मै चाहता था कि अपनी शादी पुराने अंदाज में करूंगा।अपनी इच्छा पूरी करने और लोगों को पर्यावरण संरक्षण का संदेश देने के लिए ऐसे बारात निकाली जो लोगों को प्रेरणा देती रहेगी।छोटेलाल मुम्बई में स्पॉट बॉय का काम करते हैं।लोगों में इस अनोखे बारात को देखने के लिए एक अलग ही उत्साह देखने को मिल रहा था।

छोटे लाल जी की अनोखी बारात

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।

error: Content is protected !!