आप भी तो नकली दवाई नहीं खरीद रहे,बिहार की सबसे बड़ी दवा मंडी में 48 घंटे में दूसरी रेड।

आप भी तो नकली दवाई नहीं खरीद रहे।

बिहार ।पटना ।(Bihar Crime News 17)बिहार की सबसे बड़ी दवा मंडी गोविंद मित्रा रोड पर बड़े पैमाने पर नकली दवाई, अवैध दवाई, सरकारी अस्पतालों की दवाई की काला बाजारी को लेकर 48 घंटा में दूसरी रेड हुई है। छापेमारी के दौरान यह पाया गया है कि जहां पर जो दवाइयां बेची जा रही है उसमें 24 तरह की ऐसी दवाइयां हैं जिनका कोई बिल नहीं मिला है ।कुछ दवाइयां है जो उच्चरक्तचाप के रोगी को दी जाती है उस पर कोई बैच नंबर नहीं है ।सरकारी  अस्पतालों में उपलब्ध कराई जाने वाली दवाइयां भी यहां धड़ल्ले से बेची जा रही है।

मोकामा ऑनलाइन की वाटस ऐप ग्रुप से जुड़िये और खबरें सीधे अपने मोबाइल फ़ोन में पढ़िए ।

बिहार की सबसे बड़ी दवा मंडी में 48 घंटे में दूसरी रेड।

पहले दिन हुई छापेमारी में दो दो दुकानों से दर्जनभर ऐसी दवाइयां मिली है  जिसका नकली होने का अनुमान लगाया गया है नमूने को जांच के लिए भेज दिया गया था। दो दर्जन ऐसी दवाइयां मिली जिसका कोई बिल इनके पास उपलब्ध नहीं था इन सभी दवाइयों पर तत्काल प्रभाव से बिक्री पर रोक लगा दी गई है।(Bihar Crime News 17)

मोकामा ऑनलाइन के इन्स्टाग्राम पर हमसे जुड़िये ।

सरकारी अस्पतालों में इस्तेमाल होने वाली दवाइयां भी यहां इन दुकानों में बेची जा रही थी।

आज हुई छापेमारी में पता चला की सरकारी अस्पतालों में इस्तेमाल होने वाली दवाइयां भी यहां इन दुकानों में बेची जा रही थी। छापेमारी दल ने सभी दवाइयों को जप्त कर लिया है अब उनके सामने बड़ा प्रश्न यह है कि आखिर सरकारी दवाइयां इन स्टॉकिस्ट के पास कहां से आई।(Bihar Crime News 17)

लगातार दो दिन हुए छापेमारी के बाद गोविंद मित्रा रोड के सभी दवा व्यापारी अलर्ट हो गए हैं।

लगातार दो दिन हुए छापेमारी के बाद गोविंद मित्रा रोड के सभी दवा व्यापारी अलर्ट हो गए हैं। सहायक औषधि नियंत्रक विश्वजीत दास गुप्ता ने बताया कि अभी आगे भी छापेमारी होते रहेगी अवैध तरीके से दवा भंडारण और बिक्री करने वालों पर विभागीय कार्रवाई तय है

ये भी पढ़ें:-सात साथियों के शहादत के बाद भी रामकृष्ण सिंह ने सचिवालय पर झंडा फहराया था।

ये भी पढ़ें:-स्व.पं. साधू शरण शर्मा ,खूब लड़े अंग्रेजो से।

ये भी पढ़ें:-याद किये गये चाकी।

-विज्ञापन-

Bihar Crime News 17
Bihar Crime News 17

विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 79821 24182

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।