आर्मेनिया और अजरबैजान के बीच शुरू हुआ युद्ध

इधर पूरी दुनिया कोरोना महामारी से लड़ रही है तो उधर सोवियत रूस का हिस्सा रहे 2 देशों के बीच युद्ध शुरू हो चुका है।आर्मेनिया और अजरबैजान के बीच रविवार को विवादित इलाके नागोर्नो कारबाख को लेकर एक बार फिर से युद्ध शुरू हो गया है जिसमें 23 लोगों के मारे जाने की सूचना है जबकि 100 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है।

रूस ने दोनों देशों से अपील की है कि युद्ध छोड़कर दोनों देश शांति से समस्या का हल निकालें।रूसी विदेश मंत्रालय के हवाले से खबर है कि रूस मध्यस्थता के लिए तैयार है पर दोनों देश पहले युद्ध बंद करें।विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा ने कहा कि रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव युद्धविराम के लिए दोनों पक्षों से बातचीत कर रहे हैं।आखिर क्यों हो रही है दोनों देश के बीच लड़ाई ।पूर्व में सोवियत संघ का हिस्सा रहे इन दोनों देशों के बीच नागोर्नो-कारबाख इलाके को लेकर लंबे समय से विवाद चल रहा है। इंटरनेशनल लेवल पर यह इलाका अजरबैजान का हिस्सा माना जाता है, जबकि आर्मेनिया भी इस पर दावा करता है। 1994 की लड़ाई के बाद से यह इलाका अजरबैजान के नियंत्रण में नहीं है।

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।