जब सैंया भये कोतवाल तो डर काहे का,न नियम न कानून,जेल के बदले घर पहुँचे आनंद मोहन।

जब सैंया भये कोतवाल तो डर काहे का,न नियम न कानून,जेल के बदले घर पहुँचे आनंद मोहन।(Anand Mohan reached home instead of jail Janglraj)

बिहार।पटना।बिहार में राजग की जगह महागठबंधन की सरकार है। भाजपा अब विपक्ष में है जबकि राजद कांग्रेस जदयू कई सगयोगियों के साथ सरकार में है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पुनः मुख्यमंत्री बने हैं जबकि 16 अगस्त को मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण समारोह होना है।(Anand Mohan reached home instead of jail Janglraj)

मोकामा ऑनलाइन की वाटस ऐप ग्रुप से जुड़िये और खबरें सीधे अपने मोबाइल फ़ोन में पढ़िए ।

Anand Mohan reached home instead of jail Janglraj
विज्ञापन

सोशल मीडिया पर फ़ोटो वायरल होने लगी जिसमें आनंद मोहन अपने पाटलीपुत्रा स्थित आवास 166/B पर कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर रहे थे।(Mokama Online)

इसी बीच सोशल मीडिया पर फ़ोटो वायरल होने लगी जिसमें आनंद मोहन अपने पाटलीपुत्रा स्थित आवास 166/B पर कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर रहे थे।सारे नियमों को धता बता आखिर आनंद मोहन अपने आवास कैसे पहुँच गए। पेशी के लिए आए आनंद मोहन के अपने पटना वाला आवास पहुंचने के लेकर अब पुलिस पर गंभीर सवाल उठाये जा रहे हैं। ज्ञात हो कि जब पुलिस अभिरक्षा में पूर्व सांसद को पेशी के लिए लाया गया था, तो आखिर वे अपने निजी आवास पर कैसे पहुंच गए।(Anand Mohan reached home instead of jail Janglraj)

Anand Mohan reached home instead of jail Janglraj
विज्ञापन

मोकामा ऑनलाइन के इन्स्टाग्राम पर हमसे जुड़िये ।

जेल मैन्यु्अल के हिसाब से अगर किसी कैदी को अपने वर्तमान जेल से बाहर के अन्य जिलों के कोर्ट में सीधे पेशी के लिए लाया जाता है।(Mokama Online)

ज्ञात हो कि जेल मैन्यु्अल के हिसाब से अगर किसी कैदी को अपने वर्तमान जेल से बाहर के अन्य जिलों के कोर्ट में सीधे पेशी के लिए लाया जाता है। यदि किसी वजह से देर हुई या अगले दिन बहस होने की नौबत आती है तो उस कैदी को उसी स्थानीय कोर्ट के अंदर पड़ने वाले जेल में ले जाना होता है। अब सवाल उठ रहे हैं कि आखिर पूर्व सांसद आनंद मोहन अपने निवास कैसे पहुँच गए।(Anand Mohan reached home instead of jail Janglraj)

Anand Mohan reached home instead of jail Janglraj
विज्ञापन

गोपालगंज के तत्कालीन डीएम जी. कृष्णैया हत्याकांड मामले में पयरव सांसद आनंद मोहन को फांसी की सजा सुनाई गई थी।(Mokama Online)

बताते चले कि गोपालगंज के तत्कालीन डीएम जी. कृष्णैया हत्याकांड मामले में पयरव सांसद आनंद मोहन को फांसी की सजा सुनाई गई थी लेकिन ऊपरी अदालत ने फांसी की सजा को आजीवन कारावास में बदल दिया था तभी से वे जेल में बंद हैं। (Anand Mohan reached home instead of jail Janglraj)

Anand Mohan reached home instead of jail Janglraj
विज्ञापन

मोकामा और आस पास के इस तरह के अन्य खबरों को जानने के लिए मोकामा ऑनलाइन डॉट कॉम के अतिरिक्त हमारे सोशल मीडिया प्लेटफार्म फेसबुक ,ट्विटर ,इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर हमे फॉलो करें।

ये भी पढ़ें:-नए थानाध्यक्ष को दिया 50 रुपये घूस कहा हम तो 50 रुपये ही देते हैं साहब।

ये भी पढ़ें:-मोकामा में पदस्थापित क्लर्क को DM ने दी जबरिया रिटायरमेंट की सजा

Anand Mohan reached home instead of jail Janglraj
विज्ञापन
Anand Mohan reached home instead of jail Janglraj
विज्ञापन

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।

error: Content is protected !!