आधार कार्ड पर कोरोना वैक्सीन नहीं, जानिए कौन सा डॉक्यूमेंट चाहिए

कोरोना महामारी से त्रस्त दुनिया में अब राहत की खबर भी आ रही है।भारत भी दुनिया के साथ कदम से कदम मिलाकर कोरोना को कमजोर करने में लगा है भारत जैसे बड़े देश में कोरोना के वैक्सीन को लेकर भी तैयारी शुरू हो गई है।निजी व सरकारी अस्पतालों के स्वीपर से लेकर डॉक्टर तक का डाटा जमा किया जा रहा है।इस डाटा में आधार कार्ड को मान्यता नहीं दिया जा रहा है, पैन कार्ड नम्बर जरूरी है, पैन नहीं होने पर वोटर कार्ड,ड्राइविंग लाइसेंस या बैंक पासबुक की छायाप्रति जमा करवाना होगा।सभी कर्मचारियों को अविलंब डाटा उपलब्ध करवाने को कहा गया है।बिहार राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक लोकेश कुमार ने अलग अलग मेडिकल कॉलेज ,अस्पातल, क्लिनिक की विस्तारपूर्वक जानकारी ली है।

ज्ञात हो कि पटना में 405 अस्पताल को चिन्हित किया गया है जंहा सबसे पहले वैक्सीन दिया जाएगा।कोरोना वैक्सीन के लिए 332 निजी और 73 सरकारी अस्पताल को चयनित किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैक्सीन के कुछ हफ्तों में उपलब्ध होने के संकेत दिए थे।इस बात को नज़र रखते हुए बिहार स्वास्थ विभाग अपनी तैयारी प्रारंभ कर चुका है।पहले चरण में डॉक्टर व स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन दिया जाएगा।इसलिए स्वास्थ विभाग सभी आकंड़े जुटाने में लग गया है।जिलाधिकारी ने युद्ध स्तर पर डाटा संग्रह करने का निर्देश दिया है।

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।