18 अपराधियों ने हथियार के बल पर लूटा ट्रेन।

18 अपराधियों ने हथियार के बल पर लूटा ट्रेन।(18 criminals robbed the train on the force of arm)

बिहार।पटना।मोकामा।पटना मोकामा रेलखंड पर ट्रेन लूट की एक बड़ी घटना को अंजाम दिया गया है।रेलवे के सबसे हाई प्रोफाइल ट्रेन दिल्ली कोलकता दुरंतो एक्सप्रेस में हुई यह लूट की वारदात।पटना जंक्शन से जैसे ही यह ट्रेन खुली पहले से बैठे अपराधियों ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन रोक दी।ट्रेन के रुकते ही दर्जनों हथियारबन्द अपराधी सवार हो गए।बंदूक की बल पर एक एक कर 7 बोगियों में लूट पाट करते रहे।(18 criminals robbed the train on the force of arm)

मोकामा ऑनलाइन की वाटस ऐप ग्रुप से जुड़िये और खबरें सीधे अपने मोबाइल फ़ोन में पढ़िए ।

18 criminals robbed the train on the force of arm
विज्ञापन

अब भरतीय रेलवे के इस हाई प्रोफाइल ट्रेन में हुई लूट पाट के बाद रेल अधिकारियों के होश उड़े हुए हैं।(Mokama Online)

अब भरतीय रेलवे के इस हाई प्रोफाइल ट्रेन में हुई लूट पाट के बाद रेल अधिकारियों के होश उड़े हुए हैं।लूट पाट के बाद यात्री हंगामा करने लगे।ट्रेन चालक ने बताया कि पटना से खुलते ही किसी ने आपातकालीन चेन खीचीं थी इसी वजह से ट्रेन रुक गई थी।(18 criminals robbed the train on the force of arm)

18 criminals robbed the train on the force of arm
विज्ञापन

मोकामा ऑनलाइन के इन्स्टाग्राम पर हमसे जुड़िये ।

हंगामा कर रहे यात्री ने हावड़ा में जीआरपी में इसकी शिकायत दर्ज करवाई।(Mokama Online)

हंगामा कर रहे यात्री ने हावड़ा में जीआरपी में इसकी शिकायत दर्ज करवाई।जीआरपी अधिकारी ने बताया कि घटनास्थल हमारे अधिकार क्षेत्र से बाहर है इसलिये हम कुछ कर नहीं सकते इसलिये हमने उन शिकायतों को दानापुर जीआरपी को भेज दिया है।(18 criminals robbed the train on the force of arm)

18 criminals robbed the train on the force of arm
विज्ञापन

मोकामा और आस पास के इस तरह के अन्य खबरों को जानने के लिए मोकामा ऑनलाइन डॉट कॉम के अतिरिक्त हमारे सोशल मीडिया प्लेटफार्म फेसबुक ,ट्विटर ,इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर हमे फॉलो करें।

ये भी पढ़ें:-नए थानाध्यक्ष को दिया 50 रुपये घूस कहा हम तो 50 रुपये ही देते हैं साहब।

ये भी पढ़ें:-मोकामा में पदस्थापित क्लर्क को DM ने दी जबरिया रिटायरमेंट की सजा

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।

error: Content is protected !!