शराब पर सख्त हुई सुशासन सरकार, उच्चस्तरीय बैठक में हुआ निर्णय।

शराब पर सख्त हुई सुशासन सरकार, उच्चस्तरीय बैठक में हुआ निर्णय।

बिहार।पटना।प्रमंडलीय आयुक्त पटना श्री संजय कुमार अग्रवाल एवं आईजी पटना श्री संजय सिंह ने शराबबंदी कानून का सख्ती से अनुपालन कराने एवं प्रभावी मॉनिटरिंग हेतु प्रमंडल के सभी जिलों के डीएम एसपी एवं अन्य उच्चाधिकारियों सहित होटल / रेस्टोरेंट/ लॉज संचालक के साथ बैठक की गई तथा आवश्यक निर्देश दिया गया।(179 Mokama Online News)

मोकामा ऑनलाइन की वाटस ऐप ग्रुप से जुड़िये और खबरें सीधे अपने मोबाइल फ़ोन में पढ़िए ।

179 Mokama Online News

होटल, बैंक्वेट हॉल पर कड़ी नजर रखने का निर्देश दिया गया है।

शराबबंदी कानून का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराने हेतु होटल, बैंक्वेट हॉल पर कड़ी नजर रखने का निर्देश दिया गया है। होटल का कमरा अथवा बैंक्वेट हॉल के आवंटन के पूर्व कस्टमर से घोषणा पत्र लेना आवश्यक होगा। साथ ही होटल/ बैंक्वेट हॉल के मालिक को अपने कर्मियों पर विशेष नजर रखने का निर्देश दिया गया है।बैंक्वेट हॉल के मालिक को शादी समारोह में आयोजक के साथ समन्वय बनाए रखने तथा शराबबंदी का पूर्णत: अनुपालन सुनिश्चित कराना होगा।(179 Mokama Online News)

मोकामा ऑनलाइन के इन्स्टाग्राम पर हमसे जुड़िये ।

होटल, बैंक्वेट हॉल के मालिक को सीसीटीवी लगाना जरूरी है।

होटल, बैंक्वेट हॉल के मालिक को सीसीटीवी लगाना जरूरी है। उसका लोकेशन बैंक्विट हॉल एवं परिसर में समुचित रूप में रखने को कहा ताकि शादी में शामिल व्यक्तियों की ऐसी गतिविधियों पर नजर रखी जा सके। साथ ही सीसीटीवी को कार्यरत अवस्था में रखने को कहा ताकि शिकायत मिलने पर सीसीटीवी फुटेज की जांच की जा सके तथा दोषी व्यक्ति के विरुद्ध कार्रवाई की जा सके।(179 Mokama Online News)

अनुमंडलीय क्षेत्र के होटल एवं बैंक्विट हॉल की गतिविधियों पर एसडीओ एवं एसडीपीओ विशेष नजर रखेंगे।

अपने-अपने अनुमंडलीय क्षेत्र के होटल एवं बैंक्विट हॉल की गतिविधियों पर एसडीओ एवं एसडीपीओ विशेष नजर रखेंगे। इसके लिए सभी अनुमंडल पदाधिकारी एवं पुलिस उपाधीक्षक संयुक्त रूप से भ्रमणशील होकर मॉनिटरिंग करेंगे तथा तथा अवैध शराब के धंधेबाजो एवं सम्मिलित व्यक्तियों के विरुद्ध आवश्यक कार्रवाई करेंगे।

ये भी पढ़ें:-स्व.पं. साधू शरण शर्मा ,खूब लड़े अंग्रेजो से।

ये भी पढ़ें:-याद किये गये चाकी।

 179 Mokama Online News

टिप्पणियाँ बंद हो जाती हैं, लेकिन Trackbacks और Pingbacks खुले हैं।

error: Content is protected !!