मोकामा ऑनलाइन

अभिषेक को चलती ट्रेन से फेंक दिया

मोकामा में एक युवक अभिषेक को कुछ बदमाशों ने चलती ट्रेन से फेंक दिया.मोकामा का बदनाम करने में बाहरी तत्वों का हाथ मोकामा के लोगो से जयादा है.

आजकल एक नया फेशन चल निकला है कंही का भी आदमी गुंडा गर्दी करता है और मोकामा के नामा का धौंस जमता है.हर कोई अपने आपको फलाना सिंह का भाई गोतिया बना कर लड़ाई करता है और मोकामा को बदनाम करता है.पिछले कई सालों से जब कोई अपराधी पकराता है तो मोकामा घर बता कर लोगो को गुमराह करता है पर जब हकीकत सामने आती है तो वो कंही से भी मोकामा का नही होता.दूर दूर से लोग आस पास आकर अपराधिक घटनाओ को अंजाम दे रहे हैं.ताज़ा घटना भी कुछ यही व्यान करता लग रहा है.

मोकामा ऑनलाइन ट्रेन
चलती ट्रेन से युवक को निचे फेंका

मोकामा के हथिदह में एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आ रही है .सीट के विवाद में युवक अभिषेक कुमार (30) को ट्रेन से फेंक दिया गया. इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया. मोकामा और हथिदह लिंक स्टेशन के बीच बुधवार की सुबह में यह घटना घटी. बताया जा रहा है कि घायल युवक मनेर के पतीला गांव निवासी शीतल यादव का पुत्र है. वह सहरसा जाने के लिए राजेंद्र नगर टर्मिनल-सहरसा इंटरसिटी में सवार हुआ था. बख्तियारपुर स्टेशन पर पांच युवक ट्रेन में सवार हुए. सीट पर बैठने को लेकर यात्रियों के बीच विवाद शुरू हो गया.
इस बीच अभिषेक का पांचों युवकों से विवाद गहरा गया. दोनों पक्षों के बीच धक्का-मुक्की शुरू हो गयी. इसके बाद युवकों ने अभिषेक को ट्रेन से बाहर फेंक दिया. बदमाशों की इस करतूत से ट्रेन में सवार अन्य यात्री सहम गये. घटना के बाद राजेंद्र सेतु के पास ट्रेन की रफ्तार धीमी होने पर घटना के जिम्मेदार युवक फरार हो गये. बाद में यात्रियों ने घटना की सूचना कंट्रोल को दी. सूचना मिलते ही हथिदह जीआरपी ने अविलंब घायल युवक को स्थानीय अस्पताल पहुंचाया.
यहां से गंभीर अवस्था में युवक को पटना रेफर कर दिया गया. इस संबंध में हथिदह जीआरपी थानेदार ने बताया कि घायल युवक स्पष्ट रूप से बोलने की स्थिति में नहीं है. उसकी जेब में मिले मोबाइल नंबर से उसके परिजनों को सूचना दी गयी. परिजन उसका इलाज पटना के निजी अस्पताल में करवा रहे हैं. घायल युवक की हालत गंभीर बनी हुई है.(सौजन्य:-प्रभात खबर)