मोकामा
समाचार

रामजन्म यादव की हत्या एसआईटी जांच शुरू

Spread the love

चलती ट्रेन में कुख्यात रामजन्म यादव की हत्या मामले में एसआईटी जांच शुरू हुई. बाढ़ जीआरपी ने हत्याकांड से जुड़े दस्तावेज पांच सदस्यीय जांच टीम को सौंप दिया.  घटनास्थल से मिले साक्ष्य के आधार पर एसआईटी कांड की तह तक जाने के प्रयास में जुटी है.मृतक की जेब से मिले मोबाइल का डंप डेटा निकाला गया है. पुलिस सूत्रों की मानें तो कुख्यात रामजन्म इलाके के कई सफेदपोश लोगों के संपर्क में था. बख्तियारपुर से मोकामा के बीच निर्माणाधीन फोरलेन पर वर्चस्व कायम कर कंपनी से ठेका लेने की योजना बना रहा था, जिसको लेकर इलाके में उसके विरोधियों की संख्या बढ़ गयी थी. पुलिस का मानना है कि गैंगवार में कुख्यात मारा गया था.
रामजन्म को मरवाने के लिए  केवल  उसके विरोधी गिरोह को संरक्षण दिया गया. कुख्यात की हत्या की साजिश में विधायक का नाम जुड़ जाने से  कांड का खुलासा पुलिस के लिए चुनौती बनी है. मालूम हो कि गत दिन पंडारक के लेमुआबाद निवासी कुख्यात रामजन्म यादव की हत्या पाटलिपुत्र एक्सप्रेस में गोली मार कर कर दी गयी थी.