धर्म का बंधन तोड़ लड़की ने किया प्रेम विवाह

धर्म का बंधन तोड़ लड़की ने किया प्रेम विवाह

धर्म के बंधनों को तोड़कर और कट्टरपंथियों को धता बताकर एक मुस्लिम लड़की ने हिन्दू लड़के के साथ प्रेम विवाह कर धर्म के ठेकेदारों को करार जवाब दिया है. परिवार की असहमति के बाद भी दोनों ने विवाह किया. परिवार

उत्तराखंड में हादसा मोकामा के छात्र की गयी जान

उत्तराखंड में हादसा मोकामा के छात्र की गयी जान

उत्तराखंड के प्रेमनगर में हुए सड़क हादसे में मोकामा के डुमरा निवासी छात्र अंशु आनंद (24 वर्ष, पिता विपिन सिंह) की मौत हो गयी. शुक्रवार की देर रात अनियंत्रित कार पेड़ से टकरा गयी थी. इस हादसे में कार सवार

मोकामा की ‘शमा’ एशियन कबड्डी चैंपियनशिप में हुई रौशन

मोकामा की ‘शमा’ एशियन कबड्डी चैंपियनशिप में हुई रौशन

ईरान में एशियन कबड्डी चैंपियनशिप में भारतीय महिला टीम ने स्वर्णिम कामयाबी हासिल की है। टीम में शामिल बिहार की एकमात्र खिलाड़ी शमा परवीन का जलवा भी देखने को मिला। शमा मोकामा के दरियापुर गांव की निवासी हैं। दरअसल, खेलों

सौर्टर साहब का घर

सौर्टर साहब का घर

यह है मोकामा में हमारे घर के आगे का हिस्सा, जिसे हम बंगला कहते थे। जैसा कि आप फोटो में देख सकते हैं, हमारा बंगला एल के आकार का है और इसके आगे है खुला मैदान। इस मैदान में हमारे

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम को मोकामा ऑनलाइन की तरफ से भाव भीनी श्रद्धांजलि!

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम को मोकामा ऑनलाइन की तरफ से भाव भीनी  श्रद्धांजलि!

 डॉ एपीजे अब्दुल कलाम को मोकामा ऑनलाइन की तरफ से भाव भीनी  श्रद्धांजलि!                 चाचा चले गए :- आधुनिक भारत के चाचा कलाम के नाम से मशहूर  डॉ एपीजे अब्दुल कलाम का 83

रविकान्त

रविकान्त

जन्म: 1967 जन्म स्थान दरबे, मोकामा, पटना, बिहार कुछ प्रमुख कृतियाँ Translating Partition (Katha, नई दिल्ली, 2001) ; दीवान-ए-सराय 01: मीडिया विमर्श: हिन्दी जनपद ; दीवान-ए-सराय 02: शहरनामा (वाणी प्रकाशन, नई दिल्ली)। आख़िरी दोनों किताबें सराय वेबसाइट पर भी मौजूद हैं। विविध

आईपीएस अधिकारी आनंद शंकर मन से पटना में टेम्‍पो-बस से चलते हैं

आईपीएस अधिकारी आनंद शंकर मन से पटना में टेम्‍पो-बस से चलते हैं

हम-आप पटना के पब्लिक ट्रांसपोर्ट को खूब गरियाते हैं । कुछ वजहें भी हैं । टेम्‍पो-बस से राजधानी में चलना नहीं चाहते । लेकिन आप जानकर दंग होंगे कि फरवरी,2010 तक बिहार के पुलिस प्रमुख (डीजीपी) रहे 1973 बैच के

स्व विपिन सिंह

स्व विपिन सिंह

परशुराम जयंती का भव्य और सुन्दर मेला बाबा परशुराम के प्राचीन मंदिर प्रांगन में लगा हुआ था. मई सन 1993 का महिना था, गर्मी का मौषम था. सूर्य अपने पुरे जोशो खरोश के साथ गर्मी वरसा रहा था. मगर शाम

धारित्री!

धारित्री!

मोकामा प्रणाम !, मोकमा के धारित्री से अवगत करवाने के लिए हमलोग मिलजुल कर प्रयास कर रहे है जिसका परिणाम जल्द ही मोकामा ऑनलाइन पर उपलब्ध होगा . आप तमाम लोगो से हमारा विनम्र आग्रह है की अपने आस पास

अखिल भारतीय पंचायत परिषद् के अध्यक्ष श्री वाल्मिकी जी!

अखिल भारतीय पंचायत परिषद् के अध्यक्ष श्री वाल्मिकी जी!

अखिल भारतीय पंचायत परिषद् के अध्यक्ष श्री वाल्मिकी जी है जो मोकामा के औंटा गाँव से है. पूर्व में श्री वाल्मिकी जी इस गावं से मुखिया भी रह चुके है. आज अखिल भारतीय पंचायत परिषद के सर्व्वोच पद पर आसीन