बलात्कार का विरोध मोकामा के युवाओं ने निकाला कैंडल मार्च

देश में सोसल मिडिया का सही सदुपयोग हो सकता है इसका एक उदाहरन मोकामा के उन युवाओं ने प्रस्तुत किया, लगातर देश में बढ़ते हुए रेप की घटना को देखते हुए मोकामा में युवायों ने अशिफा को श्रद्धांजलि देते हुए तथा सासाराम और उन्नाव की शर्मनाक घटना के विरोध में एक कैंडल मार्च निकाला, कैंडल मार्च रामरतन सिंह कॉलेज गेट से सुरु हुई और थाना चौक , मोकामा स्टेशन , शाहिद गेट होते हुए पुनः चौक पर मोमबत्ती जलाते हुए समाप्त हुई, बड़ी बात ये थी की इस कैंडल मार्च का नेतृत्व किसी राजनीतिक दल ने नहीं किया था, ये सब युवा खुद ही सोशल मीडिया से एकत्रित हुए और लगभग 150 की संख्या में इन्होंने कैंडल मार्च निकाला.केंडल मार्च में युवाओं ने सासाराम और उन्नाव की बेटियों को न्याय मिले इसके लिए नारे लगाये.आगे किसी बेटी के साथ एसा नहीं हो इसके लिए सरकार और प्रसासन से गुहार की गई.

इनमे माधव कुमार, अतुल कुमार, उज्जवल कुमार, अभिषेक शर्मा, सोनल, स्वेतांक , सोनू, राजा, कमल विष्णु, सनी सिंह मोलदियार ,अनिल कुमार शामिल थे