मोकामा
समाचार

मृतक उठकर बैठ गया

Spread the love

मोकामा (बिहार).यहां के त्यागी बाबा घाट पर एक अजीबोगरीब घटना हुई। एक मृतक का अंतिम संस्कार करने कुछ लोग आए थे। लोग अंतिम संस्कार की तैयारियों में जुटे हुए थे लेकिन अचानक मृतक उठकर बैठ गया। पहले तो लोग भयभीत हुए लेकिन फिर उसे वापस लेकर चले गए। मरांची गांव में हुई इस अजीबोगरीब घटना की खूब चर्चा हो रही है।

डॉक्टर ने बताई ये बात

इधर, डॉक्टरों की मानें तो उसकी मौत नहीं हुई होगी। सांस काफी कमजोर हो जाने के कारण उसे मृत मानकर लोग उसका अंतिम संस्कार करने आ गए होंगे लेकिन उसकी मौत नहीं हुई होगी। बताया जा रहा है कि कुछ लोग एक शव का अंतिम संस्कार करने मरांची के त्यागी बाबा घाट आए थे। जिस व्यक्ति का अंतिम संस्कार करने लोग आए थे, उसकी ठंड से मौत बताई गई थी। घाट के किनारे बस पर शव रखा हुआ था लकड़ियों और अन्य आवश्यक सामग्रियों का इंतजाम भी किया जा चुका था। डोम राजा का इंतजार हो रहा था। घाट पर मौजूद भोला मलिक और मनोज मलिक ने बताया कि मनोज के पिता को ही अंतिम संस्कार करवाना था। लिहाजा उनका इंतजार हो रहा था। डोम राजा का इंतजार कर रहे लोग घाट के किनारे बैठे हुए थे।

ठिठुर रहा था युवक, चिता की लकड़ी में आ लगा दी गई गर्मी

बुरी तरह से ठिठुर रहे उस कथित मृतक को नीचे उतारा गया। जिन लकड़ियों को उसके अंतिम संस्कार के लिए लाया गया था उन्हीं लकड़ियों को जलाकर तत्काल अलाव की व्यवस्था की गई। आधे घंटे तक आग जलाकर उसके शरीर को गर्मी प्रदान की गई थी। मृतक जब सामान्य हुआ तो लोग उसे लेकर नवादा चले गए। घाट पर अंतिम संस्कार करवानेवाले भोला मलिक और मनोज मलिक की मानें तो वे लोग भी इस घटना को देखकर हैरान रह गए। हैरानी की बात यह है कि जिस व्यक्ति का अंतिम संस्कार होना था उसे मृत घोषित हुए 24 घंटे हो चुके थे।