माघी पूर्णिमा ,उमड़ी भीड़

आज 31 जनवरी को 2018 को चंद्र ग्रहण हो रहा है और इस दिन माघ माह की पूर्णिमा भी है. इसलिए आज के दिन का विशेष महत्व है. इस दिन पवित्र नदियों में स्नान करने का विशेष महत्व माना गया है. हिंदू पंचाग के अनुसार ग्यारहवें महीने में कर्क राशि में चंद्रमा और मकर राशि में सूर्य प्रवेश करता है तब माघ पूर्णिमा का पवित्र योग बनता है. इस दिन चंद्रमा अपनी सोलह कलाओं से शोभायमान होकर अमृत की वर्षा करते हैं. इसके अंश वृक्षों, नदियों, जलाशयों और वनस्पतियों में होते हैं. माना जाता है कि माघ पूर्णिमा में स्नान दान करने से सूर्य और चंद्रमा युक्त दोषों से मुक्ति मिलती है. माघ पूर्णिमा के दिन माघ मेले का आयोजन किया जाता है. स्नान और दान के बाद श्रद्धालु पूजा-पाठ, यज्ञ आदि करते हैं.

माघ पूर्णिमा के अवसर पर मोकामा के गंगा घाट पर स्नान करने के लिए दूर दूर से लोग आ रहे है.मोकामा और हथिदह स्टेशन पर क्षर्धालुओं की काफी भीड़ देखि जा रही है.सिमरिया  क्षर्धालुओं से भरा पड़ा है जबकि महादेव् स्थान,मालिया घाट,नारायणी घाट ,तपसी स्थान घाट पर लोग स्नानं और दान कर रहे हैं.