मोकामा
संपादकीय

मां मरियम तीर्थ यात्रा

Spread the love

बिहार के सबसे बड़े चर्च में से एक मोकामा का गिरजाघर को इसाई धर्म के लोग बहुत ही पवित्र मानते है .गिरजाघर के पीछे का तालाब बहुत ही पवित्र है. इसाई समुदाय के लोग इसे होली वाटर कहते है ,उनका मानना है की इस पवित्र जल को पीने  या छिडकने मात्र से ही शरीर की साडी व्याधियां मिट जाती है.हर साल फ़रवरी महा के पहले अर्विवार को मां मरियम तीर्थ यात्रा का आयोजन किया जाता है जिसमे शामिल होने के लिए पूरी दुनिया के लोग आते है .नौ दिन तक चलने वाला मेला यह मेला मोकामा के स्थानीय लोगो के लिए भी खुला रहता है.समारोह के आखरी दिन २०००० से जायदा लोग जुटते है.इस बार इस पूजा प्राथना में मुख्य अतिथि  पटना महाधर्मप्रांत के महाधर्माध्यक्ष आर्क बिशप विलियम डिसूजा  रहेंगे .सुरक्षा की दृष्टी से एएसपी मनोज तिवारी  ने खुद साडी जिम्मेदारी उठा राखी है.किसी भी प्रकार की अनहोनी को रोकने के लिए तमाम इंतजाम कर लिए गये है.काफी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है.

इसाई धर्मावलंबियों की आस्था के प्रमुख स्थान के तौर पर चर्चित मोकामा कैथोलिक चर्च में रविवार को मां मरियम तीर्थ यात्रा महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। नौ दिवसीय समारोह के अंतिम दिन हजारों लोग मोकामा चर्च में जुटेंगे। ईसाई धर्म के अलावा दूसरे संप्रदायों के लोग भी यहां आते हैं। मुख्य अतिथि पटना महाधर्मप्रांत के महाधर्माध्यक्ष आर्क बिशप विलियम डिसूजा होंगे। मां मरियम तीर्थ यात्रा महोत्सव को लेकर एएसपी मनोज कुमार तिवारी ने सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। एएसपी और एसडीओ द्वारा सुरक्षा व्यवस्था को लेकर मजिस्ट्रेटों की तैनाती भी की गई है। एएसपी मनोज तिवारी ने बताया कि सुरक्षा की पर्याप्त व्यवस्था की गई है और सभी महत्वपूर्ण जगहों पर पुलिस बल तैनात रहेंगे। एएसपी ने बताया कि श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए कई चेक प्वाइंट और पार्किंग स्थल भी बनाए गए हैं।