मोकामा
समाचार

दिवाकर यादव के भाई अरुण यादव की गोली मारकर हत्या

Spread the love

मोकामा टाल का गेंगवार अब दिनों दिन बढ़ता जा रहा है .पिछले कुछ सालों से दिवाकर यादव मोकामा के कुछ बड़े बड़े अपराधियों की सह पाकर बहुत ही ज्यादा चर्चा में रहने लगा था.कई बार जेल भी गया पर जेल से वो और शक्तिशाली होकर ही निकला .आज उसके पाप की सजा उसके भाई अरुण यादव को मिली .आपसी गेंगवार में शुक्रवार की देर रात उसकी हत्या गोली मारकर कर दी गई .घटना का कोई स्पस्ट कारन नहीं होने के वजह से माना जा रहा है की दिवाकर यादव का भाई होने का सजा उसे मिला है.अरुण यादव मोकामा में रहता तक नहीं था वो राजस्थान में रहकर मजदूरी करता था.इधर फसल कटाई के लिए अपने गावं गोसाई गावं आया हुआ था.खेती खढ़यानी के चक्कर में ही किसी से विवाद होने लगा जिसके बाद दोनों पक्षों में लड़ाई होते होते फायरिंग होने लगी जिसमे एक गोली अरुण यादव के कमर में लगकर आर पार हो गई ,उसे घायल अवस्था में मोकामा रेफरल अस्पताल लाया गया .जन्हा चिकत्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया . इस हत्या के बाद टाल की लड़ाई और बढने की उम्मीद है.मोकामा ,घोसवरी और हथिदह पुलिस मिलकर हत्यारों को तलाश कर रही है .अभी तक किसी की गिरफ़्तारी नहीं हुई है.
अरुण यादव गोसाई गांव निवासी वासुदेव यादव का बेटा था जबकि वो दिवाकर यादव का भाई भी था.इस हत्या के बाद टाल की शन्ति भंग हो गई है.किसी भी अनहोनी से इनकार नहीं किया जा सकता है .मगर पुलिस चौकन्नी है हत्यारे को जल्द से जल्द पकड़ने का दावा किया जा रहा है ताकि टाल की शांति कायम रहे.