नही रहे जिला पार्षद रामदेव यादव ,मोकामा में शोक की लहर

राजनीती में सीधे और साहस के साथ आगे बढने वाले जिला पार्षद रामदेव यादव का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया.पटना हिहं कोर्ट से रिटायर्ड श्री यादव ने राजनीती के लिए अपनी मात्रभूमि को चुना और अपने जीवन के अंतिम दिन तक यंही रह गये.रामदेव यादव अधिवक्ता उच्च न्यायालय पटना शहर जिला परिषद की मौत से शोक की लहर ! रामदेव यादव जी का स्वर्गवास मोकामा बीती रात हो गया मोकामा प्रखंड के बरह्पूर निवासी रामदेव यादव सामाजिक कार्यकर्ता से अपने कैरियर की शुरुआत करने वाले क्षेत्र के शोषित और वंचित लोगों के एक मजबूत आवाज थे.सामाजिक कार्य करने का भावना उन्हें पटना उच्च न्यायालय के से वकालत को छोड़ अपने क्षेत्र के लोगों के लिए राजनीति में सक्रिय हो गए थे रामदेव यादव जी किसान मोर्चा का गठन कर क्षेत्र के किसानों का आवाज बने बरह्पूर राम जानकी ठाकुरबारी के समिति गठन कर उसके रखरखाव के लिए जुल्म के विरोध में आवाज़ उठाएं जिसके सफलता के कारण आज राम जानकी ठाकुरबाड़ी विधिवत रूप से संचालित हो रही है उनका अचानक जाना समाज में उनकी कमी की पूर्ति नहीं की जा सकती है श्री रामदेव यादव वर्तमान समय में पश्चिमी जिला पार्षद पद पर जीत हासिल कर जनता के बीच समाज सेवा को सक्रिय थे

उनके जाने से पूरे मोकामा क्षेत्र के रजनीति में एक बड़ा -खालीपन आ गया हे । वो हर उम्र के लोगों के बीच काफी प्रचलित थे । उनमें सेवा की वो भावना ही था । जो वो पटना हाई कोर्ट के वोकीलगीरी छोड़ अपने निवास क्षेत्र “बरह्पूर “(मोकामा )रहने को चुना ।आज उनके ना रहने से खाश कर युवा वर्गों में काफी गमगीन का महौल हे । वो युवा के हर जरूरत के लिय सबसे पहले और हमेशा सबसे आगे खड़ा रहते थे । वो युवा के लिए बाद में जिला -पर्षद पहले उनके प्रेरणा स्रोत थे ।