धारित्री- मोकामा कि धरती इतराती हो!

बाबा परशुराम
Spread the love

मोकामा प्रणाम,
जैसा की विदित है की मोकाम ऑनलाइन अपनी संस्कृति और सामाजिक धरोहर को बचाने के लिए अपना योगदान कर रहा है .जिसका छोटा सा उदहारण शहीद द्वार जो शहीद प्रफुल्ला चाकी के बलिदान की कहानी कहता है का (शहीद द्वार ) पुनर्निर्माण भी है. जयवर्धन और उनकी साथियों ने जिस प्रकार आलोचनाओ के वावजूद अपने जिद और जूनून पर अड़े रहे जिसका परिणाम आज शहीद द्वार पुनह शहीद प्रफुल्ला चाकी की कहानी कहता प्रतीत होता है .इसके लिए सहयोग करने वाले तमाम लोगो का धन्यबाद.
आप सभी सदस्यों को बताते हुए अत्यंत हर्ष हो रहा है कि मोकामा ऑनलाइन ने मोकामा कि गौरव गाथा में चार चाँद लगाने वाले महान लालों को सूचीबद्ध करने का प्रयास आरम्भ किया है जिसका नाम ‘धारित्री’ दिया गया है अर्थात जिन पर मोकामा कि धरती इतराती हो … गर्व करती हो। साथ ही मोकामा ऑनलाइन का प्रयास है कि महान विभूतियों के जीवन पर एक सीडी भी बनायीं जाये। मोकामा ऑनलाइन ने तय किया है कि आगामी वर्ष 2014 में (अनुमानतः होली के समय ) इस सीडी का विमोचन कार्यक्रम मोकामा में रखा जाये और मोकामा के हर घर में उस सीडी को पहुँचाया जाये। अपने टोले महल्ले और मोकामा के आसपास में कई ऐसे नाम है जो धाdharitriरित्री हैं। आप सभी सदस्यों से आग्रह है कि आप अपने घर और मुहल्ले / गांव कि उन विभूतियों की जानकारी मोकामा ऑनलाइन को 15 फरबरी 2014 तक उपलब्ध कराएं ताकि आपके परिवार और मुहल्ले के उन महान लालों को हम मोकामा ऑनलाइन के माध्य्म से पूरी दुनिया से रु ब रु करा सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *