मोकामा गंगा नदी

मोकामा में गंगा पर सिक्स लेन पुल का रास्ता साफ

सड़क परियोजनाओं के लिए 90 फीसद जमीन उपलब्धता की अनिवार्यता हटते ही पटना जिले के मोकामा में गंगा नदी पर राजेंद्र सेतु के समानांतर सिक्स लेन पुल के निर्माण की बाधाएं दूर हो गई हैं। यह पुल अगले तीन वर्षो में बनकर तैयार हो जाएगा। इसका शिलान्यास पिछले साल अक्टूबर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मोकामा आ कर किया था .उनके साथ सूबे के मुख्यमंत्री नितीश कुमार,सांसद वीणा देवी भी शामिल हुई थी.नितिन गडकरी ने रिमोट से इसका शिलान्यास किया था.पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने बताया कि 1161 करोड़ की लागत से बनने वाले इस पुल का निर्माण कार्य कभी भी शुरू हो सकता है।

मोकामा गंगा नदी
Six lane bridge over ganga river in mokama

इस पुल के बन जाने के बाद उत्तर एवं दक्षिण बिहार को एक सूत्र में जोड़ने में सहूलियत होगी। मोकामा औंटा घाट से सिमरिया के बीच वर्तमान राजेंद्र सेतु से 480 मीटर पूर्व की ओर पुल का निर्माण होना है। इसमें 8.15 किमी का पहुंच पथ भी शामिल है। इस पुल के बन जाने से पटना से पूर्णिया के बीच आने-जाने में लगने वाले समय में काफी कमी आ जाएगी।मोकामा एक सडक जंक्शन की तह हो जायेगा जन्हा से बिहार के हर हिस्से से समपर्क बना रह सकता है . पुल निर्माण की जिम्मेदारी वेल स्पन नामक एजेंसी को दी गई है। एनएच-31 और 80 के जंक्शन से शुरू होकर यह पुल सिमरिया घाट के पास पार करेगा और सिमरिया- खगड़िया चार लेन पथ में बरौनी थर्मल पावर प्लांट के पहले मिल जाएगा।वर्तमान में मोकामा का राजेन्द्र सेतु अत्यधिक लोड के वजह से जर्जर होता जा रहा है .50 साल से राजेन्द्र सेतु मोकामा की शान बना हुआ है,पर प्रशासन की लापरवाही से ये जानलेवा बन गया है.अभी कुछ दिन पहले ही मोकामा पुल से गिरकर माँ बेटी की मौत हो गई थी,जबकि सडक दुर्घटना का कोई हिसाब किताब नहीं है.(सौजन्य:-दैनिक जागरण)