बच्चों स्वतंत्रता सेनानियों को याद किया,वृक्षारोपण किया

‘बिहार पृथ्वी दिवस’ इस वर्ष तीन दिन मनाया जा रहा है . आठ, नौ और दस अगस्त में से किसी भी दिन स्कूल अपनी सुविधानुसार ‘बिहार पृथ्वी दिवस’ मना रहे हैं . इसमें राज्य के सभी सरकारी और गैर-सरकारी विद्यालयों को प्रार्थना के समय बच्चों को पृथ्वी को बचाने के लिए 11 संकल्प दिलाना होगा। साथ ही उन्हें बताना होगा कि पृथ्वी किस स्थिति में है, कैसे बचेगी.पहले सिर्फ नौ अगस्त को ‘बिहार पृथ्वी दिवस’ मनाया जाता था। इस वर्ष तीन दिन कर दिया गया है। बता दें कि राज्यभर के स्कूली बच्चे पृथ्वी को बचाने के लिए 2011 से संकल्प लेते आ रहे हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के हरित आवरण को बढ़ाने के लिए ‘करो या मरो’ की तर्ज पर ‘बिहार पृथ्वी दिवस’ मनाने की घोषणा की थी

कन्या उच्च विदयालय सूर्यगढ़ा में 9/8/18 को शिक्षक बंधु एवम् छात्राओं के साथ विधालय परिवार ने अमर शहीद स्वतंत्रता सेनानियों को याद किया,उनके सर्वस्व न्योछावर की वीर गाथा से छात्राओं को रूबरू कराया गया । कार्यक्रम के दुसरे भाग में ही आज शिक्षक बंधु ने छात्राओं को पृथ्वी दिवस के उपलक्ष्य पे कृत-संकल्प दिलाया कि पर्यावरण को संरक्षण करना हमारा धर्म है । पृथ्वी दिवस के उपलक्ष्य पे हमें संदेश देना है कि जिस तरह हमारे वेदों में कहा गया धर्मे रक्षित रक्षित ‌‌,धर्म की रक्षा करते हैं तो वह हमारी रक्षा करता है, उसी प्रकार वृक्षे रक्षित रक्षित ।वृक्ष की रक्षा करेंगें तो वे भी हमारे जीवन की रक्षा करेंगें ।वृक्ष हमारे सबसे प्रिय मित्र‌ होते हैं इनकी रक्षा एवम् वृक्षारोपण को बढ़ावा देने के लिए हमेशा जागरूकता लानी चाहिए ।