जन्मदिन मुबारक प्रेम रंजन सर

जन्मदिन मुबारक प्रेम रंजन सर

भारतीय संस्कृति का एक सूत्र वाक्य प्रचलित है तमसो मा ज्योतिर्गमय इसका अर्थ है अँधेरे से उजाले की ओर जाना। इस प्रक्रिया को वास्तविक अर्थों में पूरा करने के लिए शिक्षा, शिक्षक और समाज तीनों की बड़ी भूमिका होती है।

जन्मदिन की शुभकामना विजय सर

जन्मदिन की शुभकामना विजय सर

एक शिक्षक के हाथ में समाज का निर्माण या विध्वंश छुपा होता है.वो जैसे चाहे वैसे समाज का निर्माण कर सकता है. विजय सर एक येसे ही शिक्षक है जो अपने समाज के निर्माण में लगे हुए है. आज इनके

मोकामा के आस पास के गॉव

मोकामा के आस पास के गॉव

मोकामा प्रणाम ,मोकामा और आस पास के गावं की जानकारी चाहिए ,जैसे की उसका इतिहास ,वंहा के वो लोग जिनके वजह से उस गावं का इज्जत बढ़ा हो.धार्मिक महत्त्व ,मंदिर मस्जिद ,कोई खास जो उस गावं की पहचान हो.कृपया अपने

Best of luck

Best of luck

मोकामा प्रणाम,अत्यंत भावुक क्षण है ,आज मेरी माटी के लाडले फाइनल में प्रवेश कर गए। यंहा तक पहुचना भी एक बड़ी उपलब्धि है। बहुत दम लगाया होगा,बहुत ताकत लगाई होगी,बहुत हौसला रखा होगा तब जाके यंहा तक आएं है।अब आखरी

मुझे भी हक है क्या

मुझे भी हक है क्या

कभी-कभी सोंचता हूं मुझे भी हक है क्या कुछ बोलने का, या फिर सोचने का? मोकामा चौक और नुक्कड़ों पर लोग बातें करते हैं अपने पड़ोसियों के चूल्हों और देश-विदेश की खबरों पर, उनकी ओर जब देखता हूं, तो कहते

याद किये चाकी

याद किये चाकी

  एक युवक जिसने अपने प्राणदीप भारत माता के चरणों को अर्पित कर दिया । एक युवक जिसने अपने लहू से मोकामा की पावन धरती पर क्रांति लिख गया । एक युवक जिसकी शहादत ने मोकामा की राजनीतिक इतिहास को

आयें एक दिया जलाये चाकी के नाम का शाम 7 बजे शहीद गेट मोकामा

आयें एक दिया जलाये चाकी के नाम का शाम 7 बजे शहीद गेट मोकामा

एक युवक जिसने अपने प्राणदीप भारत माता के चरणों को अर्पित कर दिया । एक युवक जिसने अपने लहू से मोकामा की पावन धरती पर क्रांति लिख गया । एक युवक जिसकी शहादत ने मोकामा की राजनीतिक इतिहास को गरिमा

डॉ आंबेडकर जी की पूण्यतिथि मनाई

डॉ आंबेडकर जी की पूण्यतिथि मनाई

 मोकामा नगर मे वार्ड न0 8,9&10 मे भाजपा शक्ति केन्द्र पर बाबा साहेव डा0 भीमराव अम्वेदकर जी की पुण्य तिथी के अवसर पर सामाजिक समरस्ता दिवस का आयोजन किया गया जहाँ बाबा साहेब को सह्रिदय भावभीनी श्रधान्जली अर्पित कि ये

जातिगत आरक्षण के खिलाफ मोकामा में मार्च

जातिगत आरक्षण के खिलाफ मोकामा में मार्च

निजी क्षेत्रों में आरक्षण के खिलाफ आज स्वर्ण सेना ने मार्च निकाला .मोकामा मारवाड़ी स्कूल से   ,मोलदियार  टोला , सकरवार टोला चौक बाज़ार होते हुए पुरे शहर में मार्च निकाला गया.युवाओं ने खुलकर सरकार को ये सन्देश देने की कोशिश की निजी

अगलगी के बाद ठण्ड से न मर जाये

अगलगी के बाद ठण्ड से न मर जाये

कल दिनांक 04 दिसंबर 17 को बरह्पूर बिन्द्टोलि मे आग लगने से तीन परिवार की जिंदगी अस्त व्यस्त हो गई थी  ।इस घटना कशिश न्यूज़ और अख़बार  मे भी जगह दिया गया  ।आग पे काबू पाने के बाद गाँव के