Tag Archives: सुधीर मौर्य

स्त्री की स्त्री दुश्मन – सुधीर मौर्य

सच कहें तो स्त्री विमर्श खोखलेपन से गुज़र रहा है। ऐसा खोखलापन जिसे खुद स्त्री ने निर्मित किया है। इस खोखलेपन में वो खुद सहर्ष रहने को तयार है कभी किस्मत, कभी समाज तो कभी पुरुष को दोष देकर। स्त्रियों ने जिस तीव्रता से उच्च शिक्षा ग्रहण की उस तीव्रता से वो खुद को पुरुष […]

वो हिन्दू थे – सुधीर मौर्य

सुधीर मौर्य  =========   उन्होंने विपत्ति को आभूषण की तरह धारण किया उनके ही घरों में आये लोगों ने उन्हें काफ़िर कहा क्योंकि वो हिन्दू थे।   उन्होंने यूनान से आये घोड़ो का अभिमान चूर – चूर कर दिया सभ्यता ने जिनकी वजह से संसार में जन्म लिया वो हिन्दू थे।   जिन्होंने तराइन के […]

पराधीन रिंकल – सुधीर मौर्य !

Sudheer Maurya ================ कल 24 फ़रवरी को गरीब लड़की रिंकल को कैदी का जीवन बिताते हुए एक साल पूरा हो जायेगा। वो अब तक कैदी है, वो आज़ाद होगी भी या नहीं, मालूम नहीं। हम उसके लिए शायद बहुत कुछ कर न पाए, उसकी आज़ादी के लिए पुरे प्रयास हम न कर सके सो अगर […]

समाज और स्त्रियों का जबरन अपहरण!

 Sudheer Maurya ‘Sudheer’ **************************** संसार का निर्माण होते ही शायद स्त्रियों को पुरषों का गुलाम समझा जाने लगा।एक ही स्थान से, एक ही प्रक्रिया से पैदा होने के बावजूद उन्हें कभी भी पुरषों के समकक्ष स्थान  प्राप्त न हो सका। भारतीय संस्क्रीत में स्त्रियों को माँ , बहन और बेटी के रूप में पूजनीय माना गया है। पर  पत्नी […]

कौन कहता है ये इक्कीसवी सदी है!

Sudheer Maurya ‘Sudheer’ ******************************** आज कल बलात्कारियो को क्या सजा मिलनी चाहिए, ये चर्चा बड़े जोरो पर है। जहाँ तक में मानता हूँ ये चर्चा का विषय होना ही नहीं चाहिए, बलात्कारी को हर हाल में अधिकतम सजा मिलनी ही चाहिए। बलात्कारी, नाबालिग हो सकता है में इस बिंदु को सिरे से ही खारिज करता हु। कोई […]