Tag Archives: कविता

वो हिन्दू थे – सुधीर मौर्य

सुधीर मौर्य  =========   उन्होंने विपत्ति को आभूषण की तरह धारण किया उनके ही घरों में आये लोगों ने उन्हें काफ़िर कहा क्योंकि वो हिन्दू थे।   उन्होंने यूनान से आये घोड़ो का अभिमान चूर – चूर कर दिया सभ्यता ने जिनकी वजह से संसार में जन्म लिया वो हिन्दू थे।   जिन्होंने तराइन के […]