Home » सामाजिक » सम्या-गढ़ – एक परिचय !

सम्या-गढ़ – एक परिचय !

समया गढ़ बिहार राज्य अंतर्गत   पटना जिले की घोसवरी प्रखंड का एक आदर्श ग्राम है कहा जाता की मोकामा से सटे शिवनार ग्राम से कुछ लोगों ने खेती के उद्देश्य से इस टाल क्षेत्र में बस गए जो कालांतर में   समया गढ़ के नाम से जाना जाने लगा |   सम्या -गढ़  ग्राम  मोकामा से 5 किलोमीटर  दक्षिण,एन एच -82 ,  मोकामा -सरमेरा पथ से होते हुए  पैजना घाट  तक  पुनः  पश्चिम दिशा में प्रधान मंत्री ग्रामीण सड़क योजना द्धारा अर्धनिर्मित सड़क होते हुए पैजना, मालपुर ,केवटी  ग्राम के बाद   सम्या -गढ़  अवस्थित है |सम्या -गढ़  पंचायत में मुख्य रूप से केवटी,  मिल्की ,लक्षमिपुर,शोभाठिका एवं  सम्या -गढ़  ग्रामों को शामिल  किया गया है | मोकामा से  सम्या -गढ़  की दूरी लगभग 12 किलोमीटर है |यहाँ दो प्राथमिक ,एक मध्य एवं एक उच्च विद्यालय है | यहाँ एक पोस्ट ऑफिस के आलावे एक सरकारी हॉस्पिटल भी है |बर्ष १९८० के दशक में यहाँ पंजाब नॅशनल बैंक की एक शाखा भी खोली गई | समया गढ़ को आधुनिक स्वरूप प्रदान करने में श्री चंद्रमौली बाबु उर्फ़ श्री सरयुग नन्दन प्रसाद सिंह एकाकी योगदान माना जाता  है | सरस्वती  उपासक    श्री चंद्रमौली बाबु को  एक बार मोकामा विधान सभा का प्रतिनिधित्व करने का भी गौरव प्राप्त है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *