Home » कृषि » मरांची की सैकड़ों बीघा जमीन अब भी दलदल

मरांची की सैकड़ों बीघा जमीन अब भी दलदल

दलहनी फसलों की खेती से वंचित रह गये कई किसान
दलदल के कारण नहीं हो पा रही है बोआई

मोकामा : टाल क्षेत्र में जलजमाव और देर से जलनिकासी के कारण मोकामा के मरांची टाल के कई किसान दलहनी फसलों की खेती से वंचित रह गये. दिसंबर का पहला सप्ताह गुजर जाने के बाद भी मरांची की सैकड़ों बीघा जमीन पर दलहनी फसलों की बोआई नहीं हो पायी है. बताया जाता है कि सैकड़ों बीघा जमीन पर अब भी दलदल है और बोआई के लिए वहां की मिट्टी तैयार नहीं हो पायी है.

मरांची के किसान नेता अरविंद सिंह ने बताया कि लगभग आठ सौ बीघा जमीन पर दलहनी फसलों की अब तक बोआई नहीं हो पायी है और किसानों को आर्थिक नुकसान भी उठाना पड़ रहा है.

कई किसानों ने खेत के तैयार नहीं होने के बावजूद इस उम्मीद में दलहनी फसलों के बीज का छिड़काव कर दिया कि खेत परती ना रह जाये. किसान मुन्ना कुमार ने बताया कि दलहनी फसलों की बोआई विलंबित हो जाने से उत्पादन पर भी असर पड़ता है, लेकिन किसान अपने खेत को परती छोड़ नहीं सकता.

किसान नेता अरविंद सिंह और मरांची उत्तरी पंचायत के मुखिया राम कुमार सिंह ने कहा कि जिन इलाकों में दलहनी फसलों की बोआई दिसंबर के पहले सप्ताह गुजर जाने के बाद भी नहीं हो पायी है वहां पर किसानों को मुआवजा देने का प्रावधान किया जाना चाहिए. जलजमाव के कारण बोआई नहीं हो पाने को भी प्राकृतिक आपदा की श्रेणी में रखा जाना चाहिए.

Source : Prabhat Khabar

486171079-River_6

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *